राजस्थान में बिजली संकट पर सीएम का बयान: राजस्थान में बिजली संकट पर सीएम का बयान, आवश्यकता के अनुसार बिजली आपूर्ति संभव नहीं, केंद्र ने मांग के हिसाब से नहीं दिया कोयला

सीएम गहलोत ने इसके साथ ही यह भी कह दिया कि आवश्यकता के अनुसार बिजली आपूर्ति संभव नहीं है। सीएम गहलोत ने बिजली संकट का मुख्य कारण केंद्र सरकार को बताया। मुख्यमंत्री गहलोत ने सोशल मीडिया पर एक के बाद एक चार ट्वीट करते हुए लाचारी जाहिर करते हुए लोगों से बिजली कम उपयोग में लेने की अपील की।

राजस्थान में बिजली संकट पर सीएम का बयान, आवश्यकता के अनुसार बिजली आपूर्ति संभव नहीं, केंद्र ने मांग के हिसाब से नहीं दिया कोयला

जयपुर। 
प्रदेश में बिजली कटौती को लेकर अब राजनीति शुरू हो गई। एक ओर भाजपा बिजली कटौती के विरोध में प्रदेशभर में प्रदर्शन कर रही है, वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र पर मांग केअनुसार कोयला उपलब्ध नहीं कराने का आरोप लगाया। सीएम गहलोत ने इसके साथ ही यह भी कह दिया कि आवश्यकता के अनुसार बिजली आपूर्ति संभव नहीं है। 
सीएम गहलोत ने बिजली संकट का मुख्य कारण केंद्र सरकार को बताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से राज्यों की मांग के अनुसार कोयला सप्लाई नहीं किया गया। मुख्यमंत्री गहलोत ने सोशल मीडिया पर एक के बाद एक चार ट्वीट करते हुए लाचारी जाहिर करते हुए लोगों से बिजली कम उपयोग में लेने की अपील की।

गहलोत ने ट्वीट किया कि देश के 16 राज्यों में बढ़ती गर्मी के कारण बिजली की मांग बढ़ी है। इसके अनुरूप कोयले की आपूर्ति नहीं हो रही है। इसके कारण आवश्यकतानुसार बिजली आपूर्ति संभव नहीं है। उन्होंने लिखा कि यह एक राष्ट्रीय संकट है। मैं सभी से अपील करता हूं कि इस संकट में एकजुट होकर परिस्थितियों को बेहतर करने में सरकार का साथ दें। 
सीएम ने अपने निवास या कार्यक्षेत्र के गैर-जरूरी बिजली उपकरणों को बन्द रखने की अपील की। उन्होंने लिखा कि अपनी प्राथमिकताएं तय कर बिजली का उपयोग जरूरत के मुताबिक करें। 
भाजपा बिजली कर्मचारियों को कर रही है परेशान
सीएम ने ट्वीट किया कि राजस्थान में प्रदेश भाजपा बिजली घरों पर प्रदर्शन कर इस संकट में चुनौतीपूर्ण कार्य कर रहे बिजली कर्मचारियों को परेशान कर उन पर दबाव बनाने का कार्य कर रही है। मैं उनसे पूछना चाहूंगा कि राज्यों को कोयला उपलब्ध करवाने का काम केन्द्र सरकार का है। क्या प्रदेश भाजपा का दिशाहीन नेतृत्व केन्द्र सरकार से इस बारे में सवाल पूछेगा कि वो मांग के अनुसार कोयला उपलब्ध करवाने में सक्षम क्यों नहीं है जिसके कारण 16 राज्यों में बिजली कटौती की नौबत आई है?


भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने किा री—ट्वीट
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान को री ट्वीट करते हुए कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा। पूनिया ने भी सोशल मीडिया पर ट्वीट किया कि प्रदेश में 55 वर्षों तक राज करने के बावजूद, कांग्रेस के राज में प्रदेश आत्मनिर्भर क्यूं नहीं बना? प्रबंधन ठीक क्यों नहीं किया? अभी भी कोयले की कमी पर आपके और आपकी ही सरकार के DIPR के विरोधाभासी बयान हैं। पूनिया ने कहा कि इसी के चलते भाजपा ने कांग्रेस सरकार के कुप्रबंधन के विरोध में प्रदेशभर के जीएसएस पर प्रदर्शन कर रही है।

Must Read: परिवहन मंत्री ओला ने ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रेक की समीक्षा बैठक के दौरान रियल टाइम ट्रायल रिजल्ट जारी करने के दिए निर्देश

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :