Rajasthan Budget 2022 पेश: न पूछो मेरी मंजिल कहाँ है...! पंक्तियों के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुरू किया बजट 2022

सीएम गहलोत ने कहा कि गांवों की तर्ज पर शहरों के ​बेरोजगारों के लिए इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना लागू करने की घोषणा की। गहलोत ने कहा कि मनरेगा की तर्ज पर रोजगार मांगने पर 100 दिन का रोजगार दिया जाएगा।

न पूछो मेरी मंजिल कहाँ है...! पंक्तियों के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुरू किया बजट 2022

जयपुर। 
न पूछो मेरी मंजिल कहाँ है,
अभी तो सफर का इरादा किया है।
ना हारूंगा हौसला उम्र भर,
ये मैंने किसी से नहीं खुद से वादा किया है।

ये पंक्तियां आज विधानसभा में प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट 2022 पेश करने दौरान सुनाई। इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि वसुंधरा राजे से सीख कर मैंने भी इस बार बजट का शुरूआत कविता के माध्यम से किया है। 
सीएम ने बजट में शुरूआत करते हुए बेरोजगारों के लिए सौगात दी। सीएम गहलोत ने कहा कि गांवों की तर्ज पर शहरों के ​बेरोजगारों के लिए इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना लागू करने की घोषणा की। 
गहलोत ने कहा कि मनरेगा की तर्ज पर रोजगार मांगने पर 100 दिन का रोजगार दिया जाएगा। इससे 800 करोड़ खर्च होंगे। वही मनरेगा में 100 दिन का रोजगार बढ़ाकर 125 दिन करने की घोषणा कर दी। इससे राज्य सरकार के 700 करोड़ खर्च होंगे।

राजस्थान में 50 यूनिट मुक्त बिजली
गहलोत ने प्रदेश में 50 यूनिट मुफ्त बिजली देने का ऐलान किया। 
उन्होंने कहा कि सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 150 यूनिट तक 3 रुपए तथा 150 से 300 यूनिट तक 2 रुपए और इससे उपर के कंज्यूमर को भी स्लैब के हिसाब से लाभ मिलेगा।
 इससे सरकार पर करीबन चार हजार करोड़ का खर्च आएगा। 

चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना में 10 लाख तक का कवर
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि अब चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना में 10 लाख तक का कवर मिलेगा। 
इस बार इस योजना में कॉकलियर इंप्लांट सहित कई गंभीर बीमारियां को भी शामिल किया जाएगा। 
इसके साथ ही जरूरतमंद व्यक्तियों को कलेक्टर चिरंजीवी स्वास्थ्य कार्ड के बिना भी लाभ दिला पाएंगे। 
वहीं सरकारी अस्पतालों में आउटडोर तथा इनडोर में कैशलेस इलाज किया जाएगा। 
सीएम ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी दुर्घटना बीमा की घोषणा की। इसमें 5 लाख तक का एक्सीडेंट कवर मिलेगा। 
राजस्थान के 18 जिलों में नर्सिंग कॉलेज खोले जाएंगे। एसएमएस अस्पताल जयपुर में पांच नए विभाग शुरू होंगे। इसमें रोबोटिक सर्जरी शुरू होगी। 
प्रदेश के अजमेर, जोधपुर व कोटा में नए मेडिकल इंस्टीट्यूट पर 250 करोड़ खर्च होंगे। 
राज्य में 1 हजार उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे। 50 उप स्वास्थ्य केंद्रों को क्रमोन्नत किया जाएगा। जबकि 100 नई पीएचसी खुलेगी।

Must Read: मानसून के स्वागत को तैयार राजस्थान, 3 दिन तक कई जिलों में अति भारी बारिश का अलर्ट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :