Rajasthan BJP का विधानसभा घेराव 17 को: राजस्थान में कांग्रेस सरकार को चुनावी घोषणा पत्र के वादे याद दिलाएगी भाजपा, 17 को विधानसभा का करेगी घेराव

राजस्थान में विधानसभा का सत्र चालू है। ऐसे में विपक्ष की ओर से 17 सितंबर को विधानसभा घेराव का ऐलान कर दिया। भाजपा राजस्थान में कांग्रेस सरकार को उसके चुनावी घोषणा पत्र के वादे याद दिलाने, सरकार को जगाने, सरकार की गलत नीतियों का विरोध करने के लिए विधानसभा को घेराव की रणनीति बनाई है।

राजस्थान में कांग्रेस सरकार को चुनावी घोषणा पत्र के वादे याद दिलाएगी भाजपा, 17 को विधानसभा का करेगी घेराव

जयपुर। 
राजस्थान(Rajasthan) में विधानसभा का सत्र चालू है। ऐसे में विपक्ष की ओर से 17 सितंबर को विधानसभा घेराव(Assembly Gherao) का ऐलान कर दिया। BJP राजस्थान में कांग्रेस सरकार को उसके चुनावी घोषणा पत्र के वादे याद दिलाने, सरकार को जगाने, सरकार की गलत नीतियों का विरोध करने के लिए विधानसभा को घेराव की रणनीति बनाई है। वहीं दूसरी ओर भाजपा के विधानसभा घेराव की घोषणा के बाद कांग्रेस ने पलटवार करते हुए भाजपा को केंद्र में घेराव करने की सलाह दी। भाजपा प्रवक्ता एवं विधायक रामलाल शर्मा ने आज विधानसभा के बाहर कहा कि कोविड प्रोटोकॉल और अनुशासन के साथ भाजपा ने विधानसभा के घेराव का कार्यक्रम रखा है। बीजेपी जयपुर जिला(BJP Jaipur District) को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। वहीं दूसरी ओर भाजपा के ही राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ीलाल मीणा (Rajya Sabha MP Dr. Kirodi Lal Meena)कोविड प्रोटोकॉल और सरकार की ओर से अनुमति नहीं मिलने पर 13 सितंबर यानी आज किए जाने वाले विधानसभा घेराव के कार्यक्रम को स्थगित कर चुके। इस मामले में विधायक रामलाल शर्मा(MLA Ramlal Sharma) ने कहा कि डॉ किरोड़ीलाल मीणा का प्रदर्शन पहले से तय था, लेकिन उन्होंने क्यों स्थगित किया इसके बारे में तो डॉ किरोड़ीलाल ही बता सकते हैं। भाजपा जयपुर ज़िला कार्यकारिणी की ओर से विधानसभा घेराव कार्यक्रम 17 सितंबर को तय किया है। इसमें  बीजेपी कार्यालय पर बड़ी तादाद में जयपुर शहर बीजेपी, महिला मोर्चा,युवा मोर्चा और जयपुर के वार्डों से बीजेपी पार्षद, कार्यकर्ता विधानसभा के घेराव में जुटेंगे।
 
25 सांसदों को केंद्र सरकार का करना चाहिए घेराव:खाचरियावास
भाजपा की ओर से राजस्थान विधानसभा में घेराव का ऐलान करने के बाद कांग्रेस ने भी पलटवार किया है। राजस्थान सरकार के केबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि भाजपा को प्रदेश में नहीं केंद्र सरकार का घेराव करना चाहिए। 25 सांसद होने के बावजूद प्रदेश की जनता को कोविड संक्रमण के दौरान परेशान होना पड़ा।भाजपा राजस्थान को केंद्र से आक्सीजन तक नहीं दिलवा पाई। भाजपा ने तो पूरे राजस्थान की नाक कटा दी है। BJP को शर्म नहीं आती है। उन्होंने कहा कि उस वक्त मुख्यमंत्री ने राजस्थान की जनता के लिए हाथ जोड़कर भीख मांगी। बीजेपी ने भी 25 सांसदों(MPs) को साथ लेकर प्रेस कांफ्रेंस करके कहा था कि राजस्थान को ऑक्सीजन(oxygen) कम मिल रही है, गवर्नर को भी कहा था कि राजस्थान को ऑक्सीन कम मिल रही है। यह बात बीजेपी के लोग भी कह रहे हैं। लेकिन क्या तब बीजेपी राजस्थान को ऑक्सीजन दिलवा पाई। उन्होंने कहा कि अगर BJP को घेराव करना है, तो प्रधानमंत्री का करें।

देश में महंगाई से लोग कर रहे आत्महत्या
पेट्रोल-डीज़ल(Petrol-Diesel) की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर भी खाचरियावास ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जनता के लिए भाजपा ने केन्द्र का घेराव नहीं किया। जहां तक बात राजस्थान की कानून व्यवस्था(Law and order) की है, तो वह यूपी,बिहार,एमपी,हरियाणा से 100 गुणा अच्छी है। राजस्थान (Rajasthan) में पेट्रोल डीजल और गैस सिलेंडर(Gas Cylinder) की महंगाई के कारण लोग आत्महत्या कर रहे हैं। पूरे देश में महंगाई से दुखी और परेशान है। आम आदमी के सामने रोजगार का संकट पैदा हो गया है। कोरोना संकट के समय भी महंगाई रोकी नहीं गई। ढाई साल मेंBJP के लोग कोई संघर्ष या आंदोलन नहीं कर पाए। बीजेपी के पास न मुद्दे हैं,न नीति है , न सोच है। अब अपनी ज़मीन बचाने के लिए ऐसे काम किए जा रहे हैं। खाचरियावास ने पंचायत और ज़िला परिषद चुनाव(District council election) परिणाम को लेकर बीजेपी पर चुटकी लेते हुए कहा कि जनता ने BJP को रिजेक्ट कर दिया है। 2.31 फीसदी वोट बीजेपी को कम मिला है। लोग समझ गए हैं, बीजेपी सिर्फ भाषण देती है। बाकी कुछ नहीं करती है। केन्द्र और राजस्थान में बीजेपी फेल(BJP Failed) हो गई है।

Must Read: गुजरात से हनीमून मनाने आए पति ने पत्नी की गला दबाकर कर दी थी हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हत्या का खुलासा, प्रेस प्रसंग से जुड़ा मामला

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :