Rajasthan@राजस्व मंत्री पंजाब में व्यस्त: पंजाब कांग्रेस प्रभारी बनने के बाद अब राजस्थान के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी मंत्री पद छोड़ने की करेंगे पेशकश

राजस्थान सरकार के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी अब पंजाब में कांग्रेस प्रभारी बन गए। प्रभारी का पद संभालने के बाद अब हरीश चौधरी राजस्थान में मंत्री पद छोड़ने जा रहे है। राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने पंजाब प्रभारी बनने के बाद एक व्यक्ति एक पद की पैरवी की है।

पंजाब कांग्रेस प्रभारी बनने के बाद अब राजस्थान के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी मंत्री पद छोड़ने की करेंगे पेशकश

जयपुर।
राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी (Harish Chowdhary) अब पंजाब में कांग्रेस प्रभारी बन गए। प्रभारी का पद संभालने के बाद अब हरीश चौधरी राजस्थान में मंत्री पद छोड़ने जा रहे है।  चौधरी ने कांग्रेस पार्टी हाई कमान से मिलकर मंत्री पद छोड़ने की पेशकश कर दी है। बताया जा रहा है कि राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने पंजाब प्रभारी(Punjab Incharge) बनने के बाद एक व्यक्ति एक पद की पैरवी की। इसके साथ ही उन्होंने राजस्थान सरकार में राजस्व मंत्री पद को छोड़ने के संकेत दिए है। दिल्ली में मंगलवार को होने वाली कांग्रेस प्रभारियों की बैठक में हरीश चौधरी सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी से मिलकर उन्हें राजस्थान का मंत्री पद छोड़ने की पेशकश कर सकते है। न्यूज एजेंसियों के मुताबिक हरीश चौधरी ने कहा है कि मैं पंजाब का फुल टाइम प्रभारी हूं और इस समय मेरा फोकस पंजाब विधानसभा चुनाव पर ही है। जनवरी 2022 तक मेरे पास दूसरे काम करने का समय नहीं है। पंजाब के प्रभारी की जिम्मेदारी महत्वपूर्ण है। चौधरी ने यह भी कहा कि एक व्यक्ति के पास एक ही पद होना चाहिए। मैं इस बात का आज भी समर्थन करता हूं और पहले भी यह बात कह चुका हूं। चौधरी ने यहां यह भी स्पष्ट कर दिया कि एक आदमी एक पद मैं स्वयं के संदर्भ में कह रहा हूं। मेरा ऐसा मानना है कि इसे किसी दूसरे व्यक्ति या नेता के संदर्भ में लागू करने से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए।
1 व्यक्ति 1 पद गहलोत सरकार में लागू नहीं
वहीं दूसरी ओर राजस्व मंत्री हरीश चौधरी के इस बयान के बाद गहलोत सरकार(Gehlot Sarkar) के मंत्रियों पर भी दबाव बनेगा। आपको बतादें कि राजस्थान की गहलोत सरकार में तीन मंत्रियें के पास सत्ता और संगठन दोनों में पद है। इसमें सबसे पहला नाम राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष और गहलोत सरकार के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का आता है। डोटासरा सत्ता के साथ संगठन में भी पद हासिल कर चला रहे है। इसी कड़ी में दूसरा नाम चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा का है, जो गुजरात के प्रभारी भी है। इधर, हरीश चौधरी का मंत्री पद छोड़ने के बाद बाड़मेर जिले से कैबिनेट मंत्री के लिए हेमाराम चौधरी की दावेदारी मजबूत हो जाएगी।

Must Read: हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग केस में सोनिया गांधी से होगी पूछताछ, ईडी ने जारी किया नया समन

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :