डेढ़ साल बाद फिर जुड़ा मेवाड़ से रिश्ता: अरावली की हरी-भरी वादियों में 523 दिन बाद गूंजी रेल के इंजन की सिटी

मावली-मारवाड़ ट्रेन का संचालन करीब डेढ़ साल बाद सोमवार से शुरू किया गया है। कोरोना के कारण 23 मार्च 2020 से सेवा बंद थी। सोमवार सुबह पहली ट्रेन मावली से चलकर मारवाड़ के लिए निकली।

अरावली की हरी-भरी वादियों में 523 दिन बाद गूंजी रेल के इंजन की सिटी

पाली। मावली-मारवाड़ ट्रेन का संचालन करीब डेढ़ साल बाद सोमवार से शुरू किया गया है। कोरोना के कारण 23 मार्च 2020 से सेवा बंद थी। सोमवार सुबह पहली ट्रेन मावली से चलकर मारवाड़ के लिए निकली। मारवाड़ से सोमवार को ट्रेन का संचालन नहीं होने के कारण पर्यटकों को गोरम घाट घूमने का मौका नहीं मिला। मंगलवार से एक ट्रेन मारवाड़ और दूसरी ट्रेन मावली से संचालित होगी। पर्यटकों को गोरमघाट घूमने के लिए करीब 1 घंटे का समय मिलेगा। मावली-मारवाड़ ट्रेन का संचालन शुरू होने से पर्यटक अरावली की वादियों के बीच गुजरती ट्रेन और पहाड़ों से गिरते झरने के अद्भुत दृश्य देख सकेंगे।

इस ट्रेन से यात्री गोरमघाट रेलवे स्टेशन पहुंचते हैं। स्टेशन से पिकनिक स्पॉट तक पहुंचने का करीब दो किमी का सफर पैदल तय करना पड़ता है। यहां बड़ा झरना है। जंगल क्षेत्र में चट्टानों पर बैठकर पिकनिक मनाने के लिए कई स्पॉट हैं। चारों तरफ बड़ी पहाड़ियों से घिरे इस जगह की हरियाली आकर्षित करती है।

24 अगस्त से दोनों ओर मावली व मारवाड़ से नियमित संचालन शुरू हो जाएगा। रेलवे ने अभी दोनों ओर से एक-एक ट्रेन का ही संचालन शुरू किया है। कोरोना से पूर्व दो-दो ट्रेन का संचालन होता था। अजमेर के सीनियर डीसीएम विवेक रावत ने बताया कि यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए मावली-मारवाड़ से प्रतिदिन एक स्पेशल रेल सेवा का संचालन किया जा रहा है।

सोमवार को लोको पायलट गजेन्द्र पुरबिया व दिलीप चौधरी सुबह 7:25 पर ट्रेन लेकर मावली से रवाना हुए। ट्रेन अपने तय समय से करीब 45 मिनट की देरी से 9:30 पर कुंवारिया स्टेशन पहुंची। मावली से मारवाड़ तक कुल 152 किलोमीटर का सफर ट्रेन तय करती है। इसमें 25 छोटे पुल और 3 बड़े पुल सहित 2 सुरंग हैं।

यह समय रहेगा

सुबह सात बजकर 25 मिनट पर मावली से ट्रेन रवाना होगी। 7:40 बजे थामला मोगाना, 7:49 बजे नाथद्वारा, 8:05 बजे बेजनाल, 8:19 बजे कांकरोली, 8:46 बजे कुंवारिया, 9:06 बजे लावासरदारगढ़, 9:28 बजे चारभुजा रोड़ (आमेट), 9:48 बजे खारा कमेरी, 10:09 बजे डोलाजी का खेड़ा, 10:26 बजे देवगढ़, 10:40 बजे खामली घाट, 11:37 बजे गोरमघाट, 12:15 बजे फुलाद, 12:47 बजे मारवाड़ राणावास, 1:25 मारवाड़ पहुंचेगी। 24 अगस्त से मारवाड़ से ट्रेन का संचालन होगा। 24 अगस्त से ट्रेन मारवाड़ से सुबह 11:20 पर रवाना होगी। 11:41 बजे पर मारवाड़ राणावास, 12:05 बजे पर फुलाद, 12:46 बजे पर गोरमघाट, दोपहर 1:35 बजे खामली घाट, 1:49 बजे देवगढ़, 2:06 बजे डोलजी का खेड़ा, 2:28 बजे खारा कमेरी, 2:42 बजे आमेट, शाम 3 बजे सरदारगढ़, 3:20 बजे कुंवारिया, 3:46 बजे कांकरोली, 4:02बजे बेजनाल, 4:15 बजे नाथद्वारा, 4:27 बजे थामला मोगाना, 5:10 बजे मावली पहुंचेगी।

इनको मिलेगा फायदा

मावली-मारवाड़ ट्रेन का संचालन शुरू होने से गोरमघाट घूमने जाने वालों को फायदा होगा। हालांकि गोरमघाट में घूमने के लिए एक घंटा ही मिलेगा। ट्रेन गोरमघाट सुबह 11 बजकर 37 मिनट पर पहुंचेगी। वहीं दोपहर 12 बजकर 46 मिनट वापसी करेगी। इसके साथ ही प्रतिवर्ष सावन व भाद्रपद मास में रामदेवरा जाने वाले यात्रियों को भी इस ट्रेन के संचालन से आवाजाही में फायदा होगा। मावली से दूर दराज की ट्रेन पकडऩे वाले यात्रियों को शाम की ट्रेनों की क्रॉसिंग मावली से मिल सकेगी। मुम्बई, इंदौर, चित्तौडग़ढ़, उदयपुर आदि के लिए ट्रेन मिल सकेगी।

Must Read: बीसलपुर बांध में पानी की भारी आवक के बाद अब चार गेट खोले गए, बनास नदी में बढ़ रहा पानी

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :