इकोनॉमी: वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में जीडीपी की वृद्धि 13.0 प्रतिशत तक बढ़ने का अनुमान

वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में जीडीपी की वृद्धि 13.0 प्रतिशत तक बढ़ने का अनुमान
मुंबई, 23 अगस्त (आईएएनएस)। व्यापक टीकाकरण कवरेज के बाद संपर्क-गहन क्षेत्रों में कम आधार और मजबूत रिकवरी के कारण 2023 की पहली तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दोहरे अंकों में 13 प्रतिशत पर बढ़ने की उम्मीद है। आईसीआरए की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में मूल मूल्य पर ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) 12.6 फीसदी रहने का अनुमान है, जो पहले 3.9 फीसदी था।

आईसीआरए को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में सेक्टोरल ग्रोथ सर्विस सेक्टर (प्लस 17-19 प्रतिशत; वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में प्लस5.5 प्रतिशत) द्वारा संचालित होगी, इसके बाद उद्योग (प्लस 9-11 प्रतिशत; प्लस 1.3 प्रतिशत) होगा।

हालांकि, देश के कई हिस्सों में गर्मी की लहर के प्रतिकूल प्रभाव के कारण, कृषि, वानिकी और मछली पकड़ने में जीवीए की वृद्धि वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 1.0 प्रतिशत से घटकर वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में 4.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है।

आईसीआरए की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने एक विज्ञप्ति में कहा, वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में अनुमानित दोहरे अंकों में जीडीपी विस्तार वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के निम्न आधार के साथ-साथ व्यापक टीकाकरण कवरेज के बाद संपर्क-गहन क्षेत्रों में मजबूत सुधार से लाभान्वित होता है। आईसीआरए के आकलन में, मध्यम से उच्च आय समूहों के लिए विवेकाधीन उपभोक्ता वस्तुओं से संपर्क-गहन सेवाओं की मांग में बदलाव आया है। यह, निर्यात मांग में उभरती सतर्कता के संयोजन के साथ और औद्योगिक क्षेत्र के लिए मात्रा के साथ-साथ मार्जिन पर उच्च कमोडिटी कीमतों के प्रभाव के परिणामस्वरूप अपेक्षाकृत मध्यम औद्योगिक विकास की संभावना है।

वित्त वर्ष 2023 की शुरुआत के बाद से यात्रा से संबंधित सेवाओं में सुधार हुआ है, कॉर्पोरेट यात्रा से संबंधित मांग में वृद्धि और कोविड-19 संक्रमणों के प्रक्षेपवक्र में गिरावट के बीच अवकाश सेवाओं का लाभ उठाने के लिए आत्मविश्वास में वृद्धि से लाभ हुआ है। इसके अलावा, परिवहन के भीतर, रेलवे और सड़क उप-क्षेत्रों को वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में एक स्वस्थ रिकवरी पोस्ट करने की उम्मीद है, जैसा कि रेल माल ढुलाई और जीएसटी ई-वे बिल में स्वस्थ साल-दर-साल वृद्धि से संकेत मिल रहा है।

--आईएएनएस

एसकेके/एएनएम

Must Read: एप्पल के कर्मचारियों ने दफ्तर में वापसी के रुख पर शुरू किया अभियान

पढें इकोनॉमी खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :