भारत: सज्जाद लोन की चेतावनी, चुनावी जनसांख्यिकी बदली तो करेंगे भूख हड़ताल

श्रीनगर, 22 अगस्त (आईएएनएस)। पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) के अध्यक्ष सज्जाद लोन ने सोमवार को कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर में चुनावी जनसांख्यिकी बदली गई तो वह संसद के सामने भूख हड़ताल पर बैठेंगे।मीडिया से बात करते हुए लोन ने कहा कि जन प्रतिनिधित्व

सज्जाद लोन की चेतावनी, चुनावी जनसांख्यिकी बदली तो करेंगे भूख हड़ताल
श्रीनगर, 22 अगस्त (आईएएनएस)। पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) के अध्यक्ष सज्जाद लोन ने सोमवार को कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर में चुनावी जनसांख्यिकी बदली गई तो वह संसद के सामने भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

मीडिया से बात करते हुए लोन ने कहा कि जन प्रतिनिधित्व अधिनियम (1950 और 1951) हमारे खिलाफ नहीं है, हम सरकार की मंशा के खिलाफ हैं।

उन्होंने कहा कि वह सरकार द्वारा गैर-स्थानीय लोगों को मतदान के अधिकार पर दिए गए स्पष्टीकरण को स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने कहा, हम इंतजार करेंगे और स्थिति को देखेंगे।

एक अन्य घटनाक्रम में, सज्जाद लोन ने कहा कि वह सोमवार की सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होंगे, जिसमें गैर-स्थानीय लोगों के मतदान के अधिकारों पर चर्चा की जाएगी।

इस बैठक को पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने बुलाया है।

उन्होंने कहा, मैं व्यक्तिगत रूप से डॉ फारूक अब्दुल्ला के लिए बहुत सम्मान करता हूं, लेकिन मैं बैठक में शामिल नहीं हो पाऊंगा, क्योंकि अगर हमें गैर-स्थानीय लोगों को मतदाता के रूप में शामिल करने से लड़ने के लिए कोई ठोस कदम उठाना होता तो मीडिया के सामने बैठक नहीं बुलाई जाती।

उन्होंने पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती पर इन बैठकों के जरिए अपनी खोई हुई सत्ता को वापस पाने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

बताया जा रहा है कि मुफ्ती ने डॉ अब्दुल्ला से इस मुद्दे पर चर्चा के लिए एक सर्वदलीय बैठक बुलाने का अनुरोध किया था।

सज्जाद ने कहा कि एकता के दावों के बावजूद, स्थानीय राजनेता एक-दूसरे के खिलाफ बोल रहे हैं, जिससे यह आभास होता है कि वे स्थानीय राजनीतिक दलों के बीच एकता बनाने के लिए गंभीर नहीं हैं।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी

Must Read: लाजर हैकर्स ने फर्जी जॉब पोस्ट के जरिए एप्पल मैक यूजर्स को निशाना बनाया

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :