भारत: यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में हुई 22वीं गिरफ्तारी, उत्तर याद कराने वाला टीचर बागेश्वर से अरेस्ट

देहरादून, 22 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने 22वीं गिरफ्तारी की है। पेपर लीक मामले में कुछ छात्रों के बयानों, इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों और पूछताछ के बाद एसटीएफ ने जगदीश गोस्वामी निवासी चांदी खेत पोस्ट ऑफिस

यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में हुई 22वीं गिरफ्तारी, उत्तर याद कराने वाला टीचर बागेश्वर से अरेस्ट
देहरादून, 22 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने 22वीं गिरफ्तारी की है। पेपर लीक मामले में कुछ छात्रों के बयानों, इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों और पूछताछ के बाद एसटीएफ ने जगदीश गोस्वामी निवासी चांदी खेत पोस्ट ऑफिस गनाई, थाना चौखुटिया, जिला अल्मोड़ा को गिरफ्तार किया है। पूरे मामले में ये 22वीं गिरफ्तारी है।

एसटीएफ के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी जगदीश गोस्वामी राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मलसूना, कांडा जिला बागेश्वर में नियुक्त है। अभियुक्त द्वारा अपने इलाके और आसपास के छात्रों को इकठ्ठा कर परीक्षा के पहले रात को वाहन से धामपुर ले जाकर प्रश्न पत्र एवं उत्तर याद कराया गया। फिर वापस परीक्षा केंद्रों पर छोड़ दिया गया था।

यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामला:

गौर हो कि बीती 24 जुलाई को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में फजीर्वाड़े को लेकर बड़ा खुलासा हुआ था। 22 जुलाई को थाना रायपुर पर उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन चयन आयोग द्वारा आयोजित स्नातक स्तरीय परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक होने के मामले में दर्ज मुकदमे की विवेचना स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा की जा रही है।

बता दें कि बीते साल 2021 में 4 और 5 दिसंबर को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से 916 पदों के लिए ग्रेजुएट लेवल की परीक्षा आयोजित करवाई गई थी। जिसमें प्रदेश के तकरीबन 2 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी। जिसका परीक्षा परिणाम भी घोषित हो चुका है और डॉक्यूमेंटेशन की प्रक्रिया चल रही है, लेकिन इसी बीच पेपर लीक के खुलासे के बाद अभ्यर्थियों के साथ-साथ उत्तराखंड की सियासत गर्म है।

--आईएएनएस

स्मिता/एएनएम

Must Read: यूपी में फर्जी नियुक्ति पत्र के साथ पांच शिक्षक गिरफ्तार

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :