विश्व: चीनी अर्थव्यवस्था में सांस्कृतिक उद्योग और पर्यटन उद्योग का प्रभाव बढ़ा

चीनी अर्थव्यवस्था में सांस्कृतिक उद्योग और पर्यटन उद्योग का प्रभाव बढ़ा
News from CMG , China (24th. August).
बीजिंग, 24 अगस्त। 24 अगस्त को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) की केंद्रीय समिति के प्रचार विभाग ने चीन का यह दशक थीम पर आधारित प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की। चीनी संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय के औद्योगिक विकास विभाग के निदेशक म्याओ मुयांग ने कहा कि सीपीसी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस (नवम्बर 2012) के बाद से लेकर अब तक, पिछले दस सालों में, सांस्कृतिक उद्योग और पर्यटन उद्योग आर्थिक विकास के लिए नई प्रेरक शक्ति और नए इंजन बन गए हैं, और उन्होंने राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के परिवर्तन और उन्नयन को बढ़ावा देने, गुणवत्ता और दक्षता में सुधार लाने और बेहतर जीवन के लिए लोगों की जरूरतों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

म्याओ मुयांग ने सांस्कृतिक उद्योग और पर्यटन उद्योग के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण पहलुओं को पेश किया। पहला, उद्योग के पैमाने का विस्तार जारी रहा, और बाजार के प्रमुख इकाइयों की संख्या बढ़ती रही। पिछले दस वर्षों में, निर्दिष्ट आकार से ऊपर के सांस्कृतिक उद्यमों की संख्या 36,000 से बढ़कर 65,000 हो गई है, और वार्षिक परिचालन आय 56 खरब युआन से बढ़कर 119 खरब युआन हो गई है।

दूसरा, उत्पादों की आपूर्ति तेजी से प्रचुर मात्रा में बढ़ गई है, और औद्योगिक एकीकरण ने खपत क्षमता को प्रेरित किया है। 5जी, बिग डेटा, एआर/वीआर, कृत्रिम बुद्धि और अल्ट्रा-हाई डेफिनिशन जैसी डिजिटल तकनीकों का व्यापक रूप से सांस्कृतिक और पर्यटन उद्योगों में उपयोग किया जा रहा है।

तीसरा, औद्योगिक निवेश और वित्तपोषण प्रणाली में लगातार सुधार हुआ है, और विदेशी व्यापार का उल्लेखनीय परिणाम प्राप्त किए गए हैं। 2021 में, चीन का विदेशी सांस्कृतिक व्यापार पहली बार 2 खरब अमेरिकी डॉलर से अधिक हो गया।

चौथा, संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय द्वारा महामारी के प्रभाव से निपटने में उद्योगों की मदद बढ़ गयी है, जिससे महामारी के कु-प्रभाव को दूर करने में विभिन्न कंपनियों को सहायता मिली है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

एएनएम

Must Read: विश्व को नये शीत युद्ध में फंसने की अनुमति न दें: चीनी प्रतिनिधि

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :