Rajasthan खाद्य विभाग की नई पहल: राजस्थान की भजनलाल सरकार प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों और नि:शक्तजनों के घर पहुंचाएगी राशन, खाद्य मंत्री सुमित गोदारा ने खाद्य विभाग में बनाई योजना

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत प्रदेश में योजना शुरू की गई है। इसमें ऐसे परिवार जिनके सभी सदस्य 18 वर्ष से कम हो या 60 वर्ष से अधिक आयु के अथवा निःशक्त हैं , वो राशन लेकर आने में असमर्थ हैं उन्हें अब घर बैठे कर राशन मिलेगा।

राजस्थान की भजनलाल सरकार प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों और नि:शक्तजनों के घर पहुंचाएगी राशन, खाद्य मंत्री सुमित गोदारा ने खाद्य विभाग में बनाई योजना

 जयपुर, 01 जुलाई। राजस्थान की भजनलाल सरकार ने प्रदेश के वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांग और नाबालिग राशन कार्ड धारकों को घर पर राशन पहुंचाने की नई पहल शुरू की है।

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री सुमित गोदारा के मुताबिक बजट घोषणा के अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत प्रदेश में योजना शुरू की गई है।

इसमें ऐसे परिवार जिनके सभी सदस्य 18 वर्ष से कम हो या 60 वर्ष से अधिक आयु के अथवा निःशक्त हैं , वो राशन लेकर आने में असमर्थ हैं उन्हें अब घर बैठे कर राशन मिलेगा।


खाद्य मंत्री सुमित गोदारा ने बताया कि उचित मूल्य दुकानदार या उसके द्वारा नामित व्यक्ति घर बैठे राशन उपलब्ध करवाएगा। इसके लिए संबंधित व्यक्ति वितरण के दौरान पोस मशीन, वेट मशीन तथा अन्य आवश्यक सामान साथ लेकर जाएगा।
गोदारा ने बताया कि राज्य में 60 वर्ष से अधिक आयु के कुल 8 लाख 56 हजार 422 राशन कार्ड धारक हैं एवं ऐसे राशन कार्ड धारक जिनमें कम से कम एक व्यक्ति दिव्यांग है एवं अन्य सदस्यों की आयु 60 वर्ष से अधिक एवं 18 वर्ष से कम है उनकी संख्या 9 हजार 756 है। कुल 8 लाख 66 हजार 178 परिवार है।  

उन्होंने बताया कि दुकानदार को एक से दो राशनकार्ड पर 80 रुपये, तीन से पाँच पर 200 रुपये, छः से दस पर 300 रुपये, दस से अधिक पर 320 रुपये कमीशन दिया जाएगा।

उन्होंने जिला रसद अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे वृद्ध एवं दिव्यांग परिवारों की सूची दुकानदार को एवं होम डिलीवरी के माध्यम से वितरण के सत्यापन के बाद उक्तानुसार कमीशन राशि दुकानदार को उपलब्ध करवाने की आवश्यक व्यवस्था करवाएंगे।

Must Read: 2022 अंतर्राष्ट्रीय सेवा व्यापार मेले के अंतर्राष्ट्रीयकरण के स्तर में सुधार हुआ

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :