लोकसभा चुनाव और मतदाता जागरूकता: देश में लोकसभा चुनाव में सोशल मीडिया पर मतदाता जागरूकता में राजस्थान अव्वल, निर्वाचन आयोग ने जारी की रैंकिंग

लोकसभा आम चुनाव 2024 में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की गई सोशल मीडिया रैंकिंग में राजस्थान ने देश में पहला स्थान प्राप्त किया है। निर्वाचन आयोग की ओर से देशभर में सोशल मीडिया  जैसे एक्स, इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब पर मतदाता जागरूकता में बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्यों की रैंकिंग जारी की है।

देश में लोकसभा चुनाव में सोशल मीडिया पर मतदाता जागरूकता में राजस्थान अव्वल, निर्वाचन आयोग ने जारी की रैंकिंग

जयपुर। लोकसभा आम चुनाव 2024 में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की गई सोशल मीडिया रैंकिंग में राजस्थान ने देश में पहला स्थान प्राप्त किया है। निर्वाचन आयोग की ओर से देशभर में सोशल मीडिया  जैसे एक्स, इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब पर मतदाता जागरूकता में बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्यों की रैंकिंग जारी की है।

राजस्थान निर्वाचन आयोग के सीईओ प्रवीण गुप्ता ने इस उपलब्धि पर सभी को बधाई दी है। गुप्ता के मुताबिक निर्वाचन आयोग द्वारा अप्रैल माह में सोशल मीडिया के प्रदर्शन के आधार पर जारी रैंकिंग में राजस्थान और झारखंड ने संयुक्त रूप से पहला स्थान प्राप्त किया है।

सीईओ राजस्थान ने एक्स, इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब अकाउंट्स पर अप्रैल में माह में  11 लाख से अधिक लाइक मिले हैं। इनमें सबसे अधिक 6.83 लाख इम्प्रेशन एक्स प्लेटफॉर्म पर मिले हैं। इस दौरान एक्स सोशल मीडिया पर राजस्थान निर्वाचन आयोग ने 240 फीसदी तक बढ़ाई गई।

इसमें इम्प्रेशन भी 188 फीसदी बढ़ गए। इस निर्वाचन आयोग राजस्थान के एक्स, इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब अकाउंट्स पर 66,700 से अधिक फॉलोवर थे। अप्रैल माह में इनकी संख्या 3,400 फॉलोवर का इजाफा हुआ। 

सीईओ राजस्थान ने रीजनल कंटेंट को दिया बढ़ावा

लोकसभा आम चुनाव 2024 के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक करने के लिए इस बार चुनाव आयोग की ओर से विशेष कार्य योजना बनाई गई। निर्वाचन आयोग की ओर से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर रीजनल कंटेंट को बढ़ावा दिया गया।

इस दौरान मतदाताओं को जागरूक करने के लिए रीजनल भाषा में मोटिवेशनल स्लोग्नस का उपयोग किया गया। इस दौरान रीजनल भाषाओं में मतदान प्रक्रिया सहित अन्य आवश्यक जानकारी को मतदाताओं तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया का भी उपयोग किया गया।

मतदाताओं को मतदान के लिए प्रोत्साहित करने के लिए स्पेशन ‘मीम’ सीरीज चलाई गई। इस दौरान जिला स्तर पर भी सोशल मीडिया पोस्ट के लिए एसओपी बनाई भेजी गई। प्रदेश में मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों में इस बार सोशल मीडिया की अति महत्वपूर्ण भूमिका रही।

राजस्थान निर्वाचन ​विभाग द्वारा सोशल मीडिया परफॉर्मेंस इंडेक्स के लिए भारत निर्वाचन आयोग को 11 नवाचारों की सूची भेजी गई थी। इसमें हनुमानगढ़ का ‘एक पाती माता पिता के नाम’ और बारां का ‘म्हारो हेलो’ जिला स्तरीय नवाचार को भी शामिल किया गया था। 

देश में बेहतर प्रदर्शन वाले टॉप 10 राज्य

1. राजस्थान और झारखंड (संयुक्त रूप से अव्वल)

2. कर्नाटक

3. उत्तराखंड

4. उत्तर प्रदेश, पंजाब (संयुक्त रूप से)

5. मध्य प्रदेश

6. बिहार, केरल (संयुक्त रूप से)

7. आंध्र प्रदेश

8. गुजरात, ओडिशा (संयुक्त रूप से)

9. पश्चिम बंगाल, चंडीगढ़ (संयुक्त रूप से)

10. त्रिपुरा

Must Read: वाशिंग पाउडर ने ऐसा धोया कि जिन्दगी भर की कमाई गई, 12 लाख के लालच में सवा करोड़ गंवा बैठा बुजुर्ग 

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :