Rajasthan @ प्राण जाए पर वचन न जाए: राजस्थान के कृषि मंत्री डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने दिया मंत्री पद से इस्तीफा, लोकसभा चुनावों में दौसा सहित 7 सीटों पर किया था जीत का दावा, हारने पर मंत्री पद छोड़ने का किया था ऐलान

आज सुबह डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने एक धार्मिक कार्यक्रम में एक निजी चैनल से बातचीत में इस्तीफा देने की बात स्वीकार की थी। उन्होंने कहा कि गत ​दो दिनों से वे दिल्ली में थे। इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री ने उन्हें बुलाया था लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई।

राजस्थान के कृषि मंत्री डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने दिया मंत्री पद से इस्तीफा, लोकसभा चुनावों में दौसा सहित 7 सीटों पर किया था जीत का दावा, हारने पर मंत्री पद छोड़ने का किया था ऐलान

जयपुर, 4 जुलाई 2024। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा सरकार के कृषि मंत्री डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने आज मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव को डॉ मीणा के कार्य संपादन की जिम्मेदारी जब अन्य राज्यमंत्री को दी गई थी, तब ही इसके संकेत मिल गए थे।  डॉ किरोड़ीलाल मीणा के विभागों का बंटवारा 2 अन्य राज्य मंत्रियों में कर दिया था। उसके बाद से ही डॉ मीणा के इस्तीफे की संभावना तेज हो गई थी। 


जानकारी के मुताबिक आज सुबह डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने एक धार्मिक कार्यक्रम में एक निजी चैनल से बातचीत में इस्तीफा देने की बात स्वीकार की थी। उन्होंने कहा कि गत ​दो दिनों से वे दिल्ली में थे। इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री ने उन्हें बुलाया था लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई। इस दौरान डॉ किरोडीलाल मीणा ने यह भी कहां कि मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा या पार्टी संगठन से उनकी कोई नाराजगी नहीं है।

इस्तीफा देने का कारण उनके द्वारा लोकसभा सीट को लेकर की गई घोषणा है। आप को बता दें कि लोकसभा चुनावों में उन्होंने  दौसा सहित 7 सीटों पर जीत के दावे किए थे। इस दौरान डॉ किरोडी लाल मीणा ने कहा था कि अगर एक भी सीट पर हार होती है तो मैं मंत्री पद से इस्तीफा दे दूंगा। लोकसभा चुनाव परिणाम वाले दिन भी मीणा ने रामचरित मानस की चौपाई लिखकर इसके संकेत भी दे दिए थे।

उन्होंने लिखा था कि रघुकुल रीत सदा चली आई, प्राण जाए पर वचन न जाए। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी डॉ मीणा के इस्तीफे को लेकर कहा कि मीणा पीछे हटेंगे नहीं, वे इस्तीफा जरूर देंगे।

वहीं दूसरी ओर ऐसी सूचना भी आ रही है कि डॉ किरोड़ीलाल मीणा ने सीएम से मुलाकात कर कुछ दिन पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था। हालांकि विधानसभा के बजट सत्र के चलते इसे गोपनीय रखा गया। 


इधर, बुधवार को मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव की ओर से डॉ किरोडीलाल मीणा के ग्रामीण विकास और आपदा प्रबंधन के संबंधित कार्य संपादन की जिम्मेदारी सिरोही से राज्यमंत्री ओटाराम देवासी को दी गई, वहीं कृषि एवं जन अभियोग के कार्य संपादन की जिम्मेदारी जिम्मेदारी राज्यमंत्री केके विश्नोई को दी गई थी। 

Must Read: भाजपा ने गोविंद सिंह डोटासरा के बयान पर किया पलटवार, कहा नीट पर सवाल उठाने वाले कांग्रेसी नेता कर रहे है राजनीति, कांग्रेस राज में पेपरलीक की जांच की मांग पर युवाओं को मिली थी लाठियां

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :