IIT के ग्लोबल विस्तार के लिए : 7 देशों में खोले जा सकते हैं आईआईटी के ग्लोबल कैंपस

दरअसल, आईआईटी के ग्लोबल विस्तार के लिए केंद्र द्वारा एक समिति बनाई गई थी। इस समिति ने विदेशों में स्थित भारतीय दूतावासों से परामर्श के बाद इंग्लैंड, मिस्र, सऊदी अरब, यूएई, कतर, मलेशिया और थाइलैंड में आईआईटी के ग्लोबल कैंपस खोलने की बात कही है।

7 देशों में खोले जा सकते हैं आईआईटी के ग्लोबल कैंपस
The Indian Institute of Technology, Bombay (IIT-Bombay).

नई दिल्ली | आईआईटी व अन्य इंजीनियरिंग संस्थानों में दाखिले के लिए जेईई की परीक्षाएं दोहा, दुबई, काठमांडू, मस्कट, रियाद, शारजाह, सिंगापुर, कुवैत, लागोस, कोलंबो, जकार्ता, वियना, मॉस्को, व बैंकॉक जैसे विदेशी शहरों में आयोजित की गई हैं। परीक्षाओं से आगे बढ़ते हुए अब इंग्लैंड, मिस्र, सऊदी अरब, यूएई, कतर, मलेशिया और थाइलैंड सरीखे 7 देशों में आईआईटी के ग्लोबल कैंपस खोले जा सकते हैं।

दरअसल, आईआईटी के ग्लोबल विस्तार के लिए केंद्र द्वारा एक समिति बनाई गई थी। इस समिति ने विदेशों में स्थित भारतीय दूतावासों से परामर्श के बाद इंग्लैंड, मिस्र, सऊदी अरब, यूएई, कतर, मलेशिया और थाइलैंड में आईआईटी के ग्लोबल कैंपस खोलने की बात कही है।

समिति ने विदेशों में आईआईटी के कैंपस इंडियन इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के नाम से खोलने का सुझाव दिया है। आईआईटी काउंसिल स्टैंडिंग कमिटी के अध्यक्ष डॉ के राधाकृष्णन के नेतृत्व में 17 सदस्यीय कमिटी ने अपनी रिपोर्ट बनाकर शिक्षा मंत्रालय को दी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि इन सात देशों के मापदंड कैंपस खोलने के लिए बेहतर हैं।

यह रिपोर्ट 26 देशों में स्थित भारतीय मिशनों से प्राप्त फीडबैक के आधार पर तैयार की गई है। गौरतलब है कि आईआईटी में दाखिले के लिए जेईई एडवांस की परीक्षा 28 अगस्त को होनी है। जेईई एडवांस परीक्षा की पहली शिफ्ट का टेस्ट सुबह 9 बजे से 12 बजे तक और सेकंड शिफ्ट 2 बजकर 30 मिनट से शाम 5 बजकर 30 मिनट तक होगी। टेस्ट का समय 3 घंटे है।

आईआईटी बॉम्बे द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, पहले जेईई एडवांस परीक्षा 28 अगस्त को परीक्षा होने के बाद 3 सितंबर को परीक्षा की प्रोविजनल आंसर-की जारी की जाएगी। वहीं 11 सितंबर को जेईई एडवांस का रिजल्ट घोषित किया जा सकता है।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने सोमवार 8 अगस्त को जेईई (मेंस) के दोनों सत्रों का फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया। जेईई (मेंस) के फाइनल रिजल्ट में कुल 24 छात्रों ने 100 फीसदी अंक हासिल किएं। इससे पहले पिछले महीने जारी किए गए जेईई (मेंस) के पहले सत्र में कुल 14 छात्रों ने शत प्रतिशत अंक हासिल किए थे। जेईई (मेंस) के पहले और दूसरे सत्र में कुल मिलाकर 9 लाख से अधिक छात्र शामिल हुए।

Must Read: तेलंगाना में केमिकल फैक्ट्री धमाका में छह घायल

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :