जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की पहल: विश्व जल दिवस जलदाय मंत्री डॉ जोशी ने जल की बचत और संरक्षण विषय पर पोस्टर का किया विमोचन

जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी ने कहा है कि जल की बचत और संरक्षण हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। सभी लोग अपने दैनिक जीवन में पानी को बचाने के संकल्प के साथ इसके अधिकतम सदुपयोग को अपनी आदत बनाए क्योंकि जल की बचत ही जल का उत्पादन है।

विश्व जल दिवस जलदाय मंत्री डॉ जोशी ने जल की बचत और संरक्षण विषय पर पोस्टर का किया विमोचन

जयपुर।
जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी ने कहा है कि जल की बचत और संरक्षण हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। 
सभी लोग अपने दैनिक जीवन में पानी को बचाने के संकल्प के साथ इसके अधिकतम सदुपयोग को अपनी आदत बनाए क्योंकि जल की बचत ही जल का उत्पादन है।
डॉ. जोशी मंगलवार को जयपुर में 'विश्व जल दिवस' के अवसर पर जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग (पीएचईडी) तथा जल एवं स्वच्छता सहयोग संगठन (डब्ल्यूएसएसओ) की ओर से आयोजित पोस्टर विमोचन कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि जीवन के लिए हवा के बाद पानी की सर्वाधिक आवश्यकता वाला तत्व है, जो हमें प्रकृति से मिलता है, लेकिन यह मानवीय स्वभाव हो गया है कि जो चीजें हमें प्राकृतिक रूप से मिलती है, व्यक्ति उनके उपयोग और प्रबंधन के मामले में लापरवाह होता जा रहा है।
उन्होंने कहा कि मानव द्वारा जब भी पृथ्वी के अलावा अन्य ग्रहों पर जीवन की खोज की जाती है तो वहां सबसे पहले पानी की तलाश की जाती है। पानी की खोज ही यह बताती है कि वहां कभी जीवन रहा होगा।
इसलिए यह कहा जाता है कि जल है तो जीवन है। आज इसी परिप्रेक्ष्य में जल को सहेजते हुए उसके प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभाने की जरूरत है।


डॉ. जोशी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा पूरी दुनिया में जल संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए आज के दिन को ‘विश्व जल दिवस‘ के रूप में मनाया जाता है।
सभी को इस जिम्मेदारी के लिए सचेत करने के लिए संयुक्त राष्ट्र संघ ने वर्ष 2018 से 2028 के दशक को जल कार्यवाही दशक घोषित किया है।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जलदाय राज्यमंत्री अर्जुन सिंह बामनिया ने कहा कि जल की उपलब्धता की स्थिति सभी को पता है।
लगातार अत्यधिक दोहन के कारण भूजल की स्थिति खराब होती जा रही है। यह समय की मांग है कि हम भूजल के दोहन के साथ-साथ रिचार्ज के प्रति भी सजगता से ठोस प्रयास करें।
कार्यक्रम में जलदाय मंत्री डॉ. जोशी और जलदाय राज्य मंत्री  बामनिया ने विश्व जल दिवस पर विशेष पोस्टर 'जल की हर बूंद है अनमोल, समझो इसका मोल' का विमोचन किया। 
इस अवसर पर जल जीवन मिशन के मिशन निदेशक प्रकाश राजपुरोहित, जलदाय विभाग की संयुक्त शासन सचिव-प्रथम पुष्पा सत्यानी, संयुक्त शासन सचिव-द्वितीय प्रताप सिंह, मुख्य अभियंता-ग्रामीण आरके मीना मौजूद रहे।
इनके अलावा मुख्य अभियंता-प्रशासन  राकेश लुहाड़िया, मुख्य अभियंता-जेजेएम दिनेश गोयल, मुख्य अभियंता-विशेष प्रोजेक्ट्स ​दिली​प कुमार गौड़, मुख्य अभियंता-भूजल सूरजभान सिंह एवं डब्ल्यूएसएसओ के निदेशक हुकमचंद वर्मा सहित जलदाय एवं भूजल विभाग के अधिकारी, कर्मचारी एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Must Read: रेप, पोक्सो और एससीएसटी केस में संलिप्त आरोपी को आखिरकार पुलिस ने किया गिरफ्तार, जालोर ​सीओ ने पुलिस जांच में आरोपी को बताया था निर्दोष

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :