सिरोही स्वरूपगंज की धनारी ग्राम पंचायत: सिरोही के स्वरूपगंज की नई धनारी गांव में 23 लाख की लागत से तैयार टंकी से 3 साल बाद भी शुरू नहीं हुई पेयजल सप्लाई

धनारी ग्राम पंचायत के नई धनारी गांव में पेयजल किल्लत का सामने कर रहे ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति के लिए विधायक मद से 23 लाख रुपए की लागत से तीन साल पहले पानी की टंकी का निर्माण करवाया गया, लेकिन इसे ग्रामीणों की बदनसीबी कहें या अधिकारियों-जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की आज दिन तक ग्रामीणों को टंकी से पेयजल आपूर्ति नहीं हो

सिरोही के स्वरूपगंज की नई धनारी गांव में 23 लाख की लागत से तैयार टंकी से 3 साल बाद भी शुरू नहीं हुई पेयजल सप्लाई

गौरव अग्रवाल 
फर्स्ट भारत, स्वरूपगंज। धनारी ग्राम पंचायत के नई धनारी गांव में पेयजल किल्लत का सामने कर रहे ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति के लिए विधायक मद से 23 लाख रुपए की लागत से तीन साल पहले पानी की टंकी का निर्माण करवाया गया, लेकिन इसे ग्रामीणों की बदनसीबी कहें या अधिकारियों-जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की आज दिन तक ग्रामीणों को टंकी से पेयजल आपूर्ति नहीं हो सकी हैं।

इस संबंध में ग्रामीणों ने कई बार अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों से  पेयजल आपूर्ति की मांग की, लेकिन नतीजा सिफर ही रहा।

पूर्व सरपंच आशादेवी कलबी के कार्यकाल में उच्च जलाशय, पाईप लाइन, ट्यूबवेल, बिजली कनेक्शन आदि के लिए विधायक समाराम गरासिया ने 23 लाख रुपए स्वीकृत किए थे, लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के चलते पिछले तीन सालों से यह पानी की टंकी महज शो पीस बनी हुई हैं।

घर-घर नल कनेक्शन लेकिन नहीं आ रहा पानी
नई धनारी गांव में पानी की टंकी से पाईप लाइन भी बिछा दी गई हैं और घर-घर नल कनेक्शन भी कर दिया गया हैं लेकिन ग्रामीणों के नलों में पानी नहीं आ रहा हैं।
गांव के लोग हैंडपम्प व टैंकर पर ही पूरी तरह आश्रित हैं। पीने के पानी से लेकर नहाने धोने के पानी की व्यवस्था खुद ही करते हैं।नलों में पानी नहीं आने से ग्रामीण रोजाना पानी की किल्लत का सामना कर रहे हैं।

ग्राम पंचायत व जलदाय विभाग के बीच फंसी जलापूर्ति
नई धनारी गांव में पेयजल किल्लत दूर करने के लिए 50 हजार लीटर की पानी की टंकी ग्राम पंचायत व जलदाय विभाग के बीच फंसकर रह गई हैं।
यही कारण है कि ग्रामीणों की जलापूर्ति की उम्मीद अधरझूल में लटक गई है। जलदाय विभाग के अधिकारी जहां ग्राम पंचायत द्वारा हैंड ओवर नहीं करने की बात कह रहे हैं।
वहीं ग्राम पंचायत जलदाय विभाग को जिम्मेदार ठहरा रही हैं।दोनों विभागों के बीच ग्रामीण पेयजल संकट से जरूर जुंझते नजर आ रहे हैं।

पाईपलाइन बिछाने के लिए सड़क की दशा बिगड़ी
नई धनारी गांव में पेयजल पाईपलाइन बिछाने के लिए खोदी जा रही पक्की सड़कों का पेचवर्क करने में ठेकेदार लीपापोती कर रहे हैं।
इससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। नई धनारी गांव में पाईप लाइन बिछाने के लिए खोदी सड़क को उसी मलबे से गड्ढों को भरने का काम किया हैं। अन्य कोई पेचवर्क नहीं किया गया हैं।

इनका कहना है


इस मामले में दोनों विभागों के बीच समन्वय बिठाकर समस्या का समाधान करेंगे।
हसमुख कुमार,एसडीएम पिंडवाड़ा।

मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है,जानकारी लेकर समस्या का समाधान करवाएंगे।
नितिन बंसल,प्रधान पंचायत समिति पिंडवाड़ा।

पानी की टंकी से मुख्य पाईपलाइन में कुछ हिस्सा है जो जोड़ना बाकी उसे सरकारी योजना के तहत पूरा किया जाएगा।
हनुवीर बिश्नोई,विकास अधिकारी,पंचायत समिति।

-ग्राम पंचायत को लिखित में पत्र देने के साथ कई बार मौखिक रूप से हैंड ओवर करने के लिए कहा लेकिन ग्राम पंचायत का उदासीन रवैया हैं।
उमेश मीणा,अधिशाषी अभियंता जलदाय विभाग

-मुझे जलदाय विभाग वालों ने नही पूछा,पत्र जरूर आया हैं।जल्द ही इस समस्या का समाधान करेंगे।
दानाराम,ग्राम विकास अधिकारी,ग्राम पंचायत धनारी।

Must Read: एसपी-आईजी तक पहुंच रहे वीडियो को लेकर अलग-अलग दावे 

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :