Health मंत्री की कोरोना समीक्षा बैठक: Union Health Minister ने कोरोना की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिए निर्देश, सजग और सतर्कता की अपील

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीय ने आज देश के  महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, मध्यप्रदेश, दमन और दीव व राजस्थान के साथ कोरोना पर समीक्षा बैठक की। इस दौरान वीसी में केंद्रीय मंत्री ने सभी राज्यों के चिकित्सा मंत्रियों से बातकर कोविड की तीसरी लहर से बचाव के लिए किए जा रही तैयारियों की समीक्षा की।

Union Health Minister ने कोरोना की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिए निर्देश, सजग और सतर्कता की अपील

जयपुर।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीय ने आज देश के  महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, मध्यप्रदेश, दमन और दीव व राजस्थान के साथ कोरोना पर समीक्षा बैठक की। इस दौरान वीसी में केंद्रीय मंत्री ने सभी राज्यों के चिकित्सा मंत्रियों से बातकर कोविड की तीसरी लहर से बचाव के लिए किए जा रही तैयारियों की समीक्षा की।
केंद्रीय मंत्री की वीसी में राजस्थान के चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा ने बताया कि राज्य के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों में 50 हजार सामान्य, 28 हजार ऑक्सीजन, 6 हजार आईसीयू बेड एवं 1500 नीकू, पीकू बैड उपलब्ध हैं। 
भारत सरकार द्वारा इन्डीकेडेट महत्वपूर्ण दवाइयों का तीस दिन का पर्याप्त बफर स्टॉक है। वहीं राज्य में कोरोना केसेज में बढ़ोतरी जरूर है लेकिन मृत्यु दर बेहद कम है। 
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए पूरी तरह सजग और सतर्क है।
मीणा ने कहा कि राज्य में वर्तमान में कोविड-19 के कुल एक्टिव केसेज 19 हजार 487 है। साप्ताहिक पोजिटिविटी की दर 5.26 है, जो भारत की साप्ताहिक दर 7.39 प्रतिशत से कम है। 
मीणा ने वीसी में बताया कि कुल एक्टिव कैसेज में से 19 हजार 22 (98 प्रतिशत) होम आइसोलेशन में है एवं शेष 445 अस्पतालों में भर्ती हैं।
राजस्थान में ऑमिक्रॉन के 529 मरीज है। जिनोम सिक्वेंसिंग में पॉजिटिव मरीजों में से लगभग 92 प्रतिशत ओमिक्रोन के ही पाए गए हैं। 
वहीं राज्य में प्रतिदिन लगभग 63 हजार सैम्पल लिये जा रहे है। इसकी संख्या को आने वाले दिनों में एक लाख तक ले जाया जाएगा।
वैक्सीनेशन में राजस्थान अव्वल
मीणा ने कहा कि कोरोना प्रबंधन से लेकर वैक्सीनेशन हर मामले में राजस्थान अव्वल रहा है। प्रदेश में अब तक 92.6 प्रतिशत आबादी को कोविड़ की प्रथम डोज एवं इनमें से 76 प्रतिशत को द्वितीय डोज (18+आयु) लगाई जा चुकी है। 
15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग में लक्ष्य 46,81 लाख में से 18.40 लाख किशोर किशोरियों ( 39.9 प्रतिशत) को प्रथम डोज दी जा चुकी है। 
उन्होंने बताया की स्वास्थ्य कर्मी, फन्टलाईन वर्क्स एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों को लगभग 1 लाख लोगों को प्रिकॉशन डोज लगाई जा चुकी हैं।
उन्होंने कहा कि तीसरी वेव की तैयारी के लिये 461 ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट तैयार किए गए है। 40 हजार ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर व अन्य उपकरणों से एक हजार मेट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगी।
उन्होंने केंद्र सरकार से पर्याप्त मात्रा में कोवैक्सीन टीके उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया।
इस दौरान बैठक में प्रमुख शासन सचिव वैभव गालरिया सहित अन्य राज्यों के चिकित्सा एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

Must Read: Mount Abu नगर पालिका आयुक्त का तबादला होने पर विदाई समारोह में छलका दर्द, फोन नहीं उठाने की शिकायत पर बोले अब सब के फोन का दिया जाएगा जवाब, वीडियो वायरल

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :