राजस्थान में ओवरलोड वाहनों की जांच: प्रदेश में ओवरलोड वाहनों की जांच पोर्टेबल वेईंग मशीन से ही करने के परिवहन आयुक्त ने दिए निर्देश

परिवहन एवं सड़क सुरक्षा विभाग आयुक्त महेंद्र सोनी ने शनिवार को जोधपुर कलेक्ट्रेट सभागार परिवहन रीजन जोधपुर एवं पाली के प्रादेशिक परिवहन अधिकारी, जिला परिवहन अधिकारियों एवं परिवहन निरीक्षक/परिवहन उप निरीक्षकों की समीक्षा बैठक ली।

प्रदेश में ओवरलोड वाहनों की जांच पोर्टेबल वेईंग मशीन से ही करने के परिवहन आयुक्त ने दिए निर्देश

जयपुर।
परिवहन एवं सड़क सुरक्षा विभाग आयुक्त महेंद्र सोनी ने शनिवार को जोधपुर कलेक्ट्रेट सभागार परिवहन रीजन जोधपुर एवं पाली के प्रादेशिक परिवहन अधिकारी, जिला परिवहन अधिकारियों एवं परिवहन निरीक्षक/परिवहन उप निरीक्षकों की समीक्षा बैठक ली।
इस दौरान सोनी ने आरटीओ, डीटीओ और निरीक्षकों को प्रोत्साहित किया। लाइसेंस, परमिट, टैक्स सहित 19 से अधिक परिवहन सेवाओं को आनलाइन किया गया है। 
इससे कार्यों में सरलीकरण और पारदर्शिता आई है। हम सभी की जिम्मेदारी है कि इन आनलाइन सेवाओं से आमजन को अधिक माध्यमों से अवगत कराया जायें।
सोनी ने निर्देश दिए कि वाहन चालकों के ड्राईविंग लाईसेंस की टेस्ट ऑटोमेटिक ड्राईविंग ट्रेक पर की जाएं।
जिन कार्यालयों में ट्रेक नहीं है, वहां पर परिवहन निरीक्षकों के द्वारा ट्रायल टेस्ट के बाद ही लाईसेन्स जारी किया जावें। इस कार्य में लापरवाही नहीं बरतें। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा निरीक्षकों को ओवरलोड वाहनों की मौके पर ही वजन जांच करने के लिए पोर्टेबल वेईंग मशीन उपलब्ध कराई गई है। इन मशीनों के जरिये ही वजन की जांच की जायें।
इस दौरान वित्तीय वर्ष 2021-22 में अब तक राजस्व वसूली के लक्ष्य एवं अर्जित उपलब्धि की समीक्षा की गई। उन्होंने निर्देश दिये कि परिवहन नियमों की अवहेलना करने वाले वाहन चालकों के विरूद्ध मोटर यान अधिनियम के तहत कडी कार्यवाही की जायें।
आयुक्त सोनी ने कहा कि यात्री/भार/टैक्सी-मैक्सी वाहनों में बकाया कर वाहनों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करते हुए बकाया कर की वसूली सुनिश्चित की जायें।

Must Read: अधिकारियों के बीच नोंक—झोंक में सिमट गई नर्मदा पानी की बैठक, गुजरात नहीं दे रहा राजस्थान के हिस्से का पानी

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :