Taliban का अफगान पर बढ़ रहा कब्जा: तालिबानी आतंक का लगातार बढ़ रहा है खतरा, अफगानिस्तान के 10 राज्यों के शहरों पर कर चुके कब्जा,अब समझौत के प्रयास

अफगानिस्तान के दस राज्यों में तालिबानी आतंकवादियों ने कब्जा कर लिया। हैरत की बात यह है कि आतंकी अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से महज 150 किलोमीटर की दूरी पर आकर बैठ गए।

तालिबानी आतंक का लगातार बढ़ रहा है खतरा, अफगानिस्तान के 10 राज्यों के शहरों पर कर चुके कब्जा,अब समझौत के प्रयास

नई​ दिल्ली, एजेंसी।
अफगानिस्तान(Afghanistan) के दस राज्यों में तालिबानी आतंकवादियों (Talibani terrorists)ने कब्जा कर लिया। हैरत की बात यह है कि आतंकी अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से महज  150 किलोमीटर की दूरी पर आकर बैठ गए। इससे भी चौंकाने वाली बात यह है कि अफगानिस्तान की ओर से अब हिंसा छोड़कर समझौते के प्रयास किए जा रहे है। हालात पूरे देश में बद से बदतर हो गए।  तालिबानी आतंकी महिलाओं से जबरन शादी कर अत्याचार कर रहे है। अब संभावना जताई जा रही है कि तालिबानी जल्द ही काबुल पर भी कब्जा कर सकते हैं और इसके बाद पूरा अफगानिस्तान उनकी गिरफ्त में होगा।

तालिबान ने वेस्ट अफगानिस्तान के हेरात में पुलिस हेड क्वार्टर (Police Head Quarters in Herat)पर भी कब्जा कर लिया है। इस बीच, अफगानिस्तान सरकार ने सुलह की कोशिश शुरू कर दी  है। कतर में तालिबानियों के साथ बातचीत कर रहे सरकारी अधिकारियों ने हिंसा खत्म करने के लिए समझौते का एक ऑफर दिया है। न्यूज एजेंसियों के मुताबिक अफगान सरकार तालिबानियों (Talibanis) को सत्ता में साझेदार बनाने का आफर दे सकती है ताकि वो देश में जंग खत्म कर दें। गुरुवार को तालिबान ने अफगानिस्तान के 10वें राज्य की राजधानी गजनी पर भी कब्जा कर लिया। गजनी में कल तक जो गवर्नर ऑफिस(Governor's Office), पुलिस हेडक्वार्टर (Police Headquarters) और जेल सरकार के नियंत्रण में थी, अब उन पर तालिबान के आतंकियों का कब्जा हो गया। गजनी और काबुल की दूरी महज 150 किलोमीटर है। ऐसे में अब अफगानिस्तान के आम लोगों की उम्मीद दिन-ब-दिन टूटती जा रही है। पिछले दिनों अलग-अलग शहरों से लोग सुरक्षा के लिहाज से काबुल पहुंच गए थे, लेकिन अब काबुल पर कभी भी कब्जा हो सकता है।  ऐसा भी बताया जा रहा है कि तालिबान को काबुल पर कब्जा करने में दो से चार माह का समय लग सकता है। 

Must Read: दुनिया की पहली हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेनें जर्मनी में यात्री सेवा के लिए शुरु

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :