राजस्थान की राजनीति सोशल मीडिया पर : राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य मंत्री और उपनेता प्रतिपक्ष के सोशल मीडिया बहस पर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के बेटे ने किया कटाक्ष

राजस्थान में कोरोना का कहर भले ही कम हो गया हो, लेकिन राजस्थान की राजनीति में ऊबाल कम होने का नाम नहीं ले रहा। पूर्व उप मुख्यमंत्री का दिल्ली दौरा चर्चा में रहने के बाद अब सोशल मीडिया पर राजनेताओं के बयान चर्चा का विषय बने हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के बीच ट्वीटर पर...

राजस्थान सरकार के स्वास्थ्य मंत्री और उपनेता प्रतिपक्ष के सोशल मीडिया बहस पर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के बेटे ने किया कटाक्ष

जयपुर। 
राजस्थान में कोरोना का कहर भले ही कम हो गया हो, लेकिन राजस्थान की राजनीति में ऊबाल कम होने का नाम नहीं ले रहा। पूर्व उप मुख्यमंत्री का दिल्ली दौरा चर्चा में रहने के बाद अब सोशल मीडिया पर राजनेताओं के बयान चर्चा का विषय बने हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ( Health Minister Raghu Sharma) और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ (Rajendra Rathore) के बीच ट्वीटर (Twitter) पर चले कटाक्ष में तीसरे पक्ष ने भी एंट्री कर ली। अब पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के पुत्र ने पायलट का जिक्र कर बहस को नया मोड़ दे दिया है। 
जानकारी के मुताबिक भाजपा के भरतपुर जिलाध्यक्ष और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री दिवंगत दिगंबर सिंह के बेटे शैलेश सिंह (Shailesh Singh) ने अजमेर उपचुनाव में रघु शर्मा की जीत के पीछे सचिन पायलट को श्रेय देकर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि  आप अजमेर का चुनाव पायलट जी की वजह से जीते, फिर पलटी मारकर गहलोत जी के पास चले गए। आपके कार्यकाल में प्रदेश में हजारों निर्दोष कहीं ऑक्सीजन तो कहीं इंजेक्शन, दवाइयों की कमी की वजह से मर गए। इतना सब होने के बाद भी आप राजेंद्र राठौड़ जी जैसे जमीन से जुड़े व्यक्ति को नसीहत दे रहे हैं। आप को बता दें कि रघु शर्मा ने राजेंद्र राठौड पर तंज कसते हुए ट्वीट किया था कि चूरू में आप बीजेपी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष जगदीश माथुर को हराने के लिए लड़े थे लेकिन पीले चुनाव में जमानत जब्त हो गई, दूसरे चुनाव में केवल दो हजार वोट आए। उसके बाद हुए चुनाव में आप जनता दल से जीते और पार्टी का विघटन करके भाजपा में चले गये। मैं तीन चुनाव जीता जिसमें एक अजमेर लोकसभा का भी चुनाव शामिल है। जिसमें आठों विधानसभाओं से भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ा। दिवंगत बीजेपी नेता, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री दिगंबर सिंह और राजेंद्र राठौड़ के बीच गहरी दोस्ती थी। आज भी दोनों परिवारों में अच्छे संबंध हैं। राठौड़ के बेटे और शैलेश सिंह में भी अच्छी दोस्ती है, इसीलिए शैलेश सिंह इस ट्वीट वॉर में राजेंद्र राठौड़ के पक्ष में कूदे।

Must Read: अहिंसा सर्किल से ओटाराम देवासी ने संयम लोढ़ा को घेरा, कहा- लोग भेष बदलकर आ रहे हैं।

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :