राजस्थान फसल की समर्थन मूल्य पर खरीद: प्रदेश में सरसों तथा चने की समर्थन मूल्य पर खरीद 1 अप्रेल से होगी शुरू, 25 मार्च से ई मित्र से करा सकते हैं पंजीयन

सरसों एवं चने की समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए 25 मार्च से ऑनलाइन पंजीयन शुरू किया जाएगा। किसान को उपज बेचान के लिए पंजीयन की सुविधा ई-मित्र या संबंधित खरीद केन्द्र (ग्राम सेवा सहकारी समिति /क्रय विक्रय सहकारी समिति) पर उपलब्ध रहेगी।

प्रदेश में सरसों तथा चने की समर्थन मूल्य पर खरीद 1 अप्रेल से होगी शुरू, 25 मार्च से ई मित्र से करा सकते हैं पंजीयन

जयपुर।
सरसों एवं चने की समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए 25 मार्च से ऑनलाइन पंजीयन शुरू किया जाएगा। 
किसान को उपज बेचान के लिए पंजीयन की सुविधा ई-मित्र या संबंधित खरीद केन्द्र (ग्राम सेवा सहकारी समिति /क्रय विक्रय सहकारी समिति) पर उपलब्ध रहेगी।
प्रदेश में एक अप्रेल से चना के 621 एवं सरसों के 621 सहित कुल 1242 क्रय केन्द्रों पर खरीद प्रारंभ की जाएगी। यह जानकारी सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने मंगलवार को दी।
आंजना ने बताया कि समर्थन मूल्य पर रबी सीजन 2022-23 में भारत सरकार द्वारा राज्य में चना खरीद का 5.97 लाख मीट्रिक टन एवं सरसों खरीद का  13.03 लाख मीट्रिक टन लक्ष्य दिया गया है। 
ऑनलाइन पंजीयन करते समय किसान को जनआधार कार्ड, बैंक पासबुक एवं गिरदावरी की प्रति पंजीयन फार्म के साथ अपलोड करनी होगी।


किसान को आधार आधारित बायोमैट्रिक अभिप्रमाणन पर पंजीयन करवाना होगा। सहकारिता मंत्री ने कहा कि सभी किसान अपना मोबाईल नम्बर आधार में लिंक करवा लेवें।
इससे किसानों को समय रहते तुलाई दिनांक की सूचना प्राप्त हो सके।
किसान यह सुनिश्चित करें कि जनआधार कार्ड में अपने बैंक खाते नम्बर को अद्यतन (अंकित) करें ताकि खाता संख्या एवं आई.एफ.एस.सी. कोड में यदि कोई विसंगति नहीं रहे ताकि भुगतान के समय परेशानी ना हो।
आंजना ने बताया कि एक मोबाइल नम्बर पर एक ही किसान का पंजीयन किया जाएगा तथा पंजीयन का कार्य प्रातः 9 बजे से सायं 7 बजे तक होगा। 
उन्होंने बताया कि किसान की कृषि भूमि जिस तहसील में होगी उसी तहसील के कार्यक्षेत्र में आने वाले खरीद केन्द्र का चयन रजिस्ट्रेशन के दौरान कर सकेगा। 
उन्होंने बताया कि किसान को उसकी पंजीकरण दिनांक के आधार पर वरीयता के अनुसार तुलाई के लिए दिनांक एवं जिन्स की मात्रा का आवंटन किया जाएगा।
इसकी सूचना किसान के पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस द्वारा दी जाएगी।
प्रबंध निदेशक राजफैड सुषमा अरोडा ने बताया कि निर्धारित केन्द्रों पर सरसों 5050 रुपए तथा चना 5230 रुपए के समर्थन मूल्य पर किसानों से खरीदा जाएगा।
उन्होंने कहा कि तुलाई के समय किसी प्रकार की असुविधा से बचने के लिए उपज को तय एफएक्यू मापदण्डों के अनुसार तैयार कर लाएं।
उन्होंने कहा कि किसानों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, उपज के बेचान व भुगतान आदि के संबंध किसी प्रकार की समस्या न हो, तो टोल फ्री नम्बर 18001806001 पर फोन कर समस्या का समाधान कर सकते हैं।

Must Read: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने तीरंंदाज लिंबाराम के उपचार के लिए 10 लाख रुपए की दी आर्थिक सहायता

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :