टीम इंडिया का इंग्लैंड दौरा: वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 से 22 जून के बीच इंग्लैंड में, कोरोना के चलते टीम इंडिया को नहीं मिल पाएगा तैयारी का समय

टीम इंडिया को अगले माह 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के साउथैम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेलना है। टीम जून के पहले सप्ताह में इंग्लैंड पहुंच जाएगी, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल के कारण खिलाड़ियों को तैयारी का बहुत कम मौका मिलेगा।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 से 22 जून के बीच इंग्लैंड में, कोरोना के चलते टीम इंडिया को नहीं मिल पाएगा तैयारी का समय

नई दिल्ली। 
टीम इंडिया (India) को अगले माह 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के साउथैम्पटन (Southampton) में न्यूजीलैंड (New zealand) के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) का फाइनल मुकाबला खेलना है। टीम जून के पहले सप्ताह में इंग्लैंड पहुंच जाएगी, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल के कारण खिलाड़ियों को तैयारी का बहुत कम मौका मिलेगा। हालांकि भारतीय टीम फील्डिंग कोच आर श्रीधर (R Sridhar) ने इसे भारत के  लिए अच्छा माना है। इससे खिलाड़ी ज्यादा फोकस होकर खेलेंगे। श्रीधर ने कहा कि कम तैयारी के साथ खेलने का मतलब होता मानो आप किसी चोट के साथ खेल रहे हैं। जब खिलाड़ी चोटिल होने के बावजूद खेलता है तो उसका फोकस ज्यादा होता है। वह कम से कम गतलियां करने की कोशिश करता है। इसलिए उन्हें लगता है कि अगर टीम के खिलाड़ियों को तैयारी का मौका कम मिलता है तो इससे बहुत ज्यादा चिंतित होने की जरूरत नहीं है। श्रीधर ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों को इस वक्त मानसिक रूप से स्मार्ट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा, टीम के हर खिलाड़ी के पास स्थिति के अनुकूल ढलने की क्षमता है। ज्यादातर खिलाड़ी न्यूजीलैंड के खिलाफ खेल चुके हैं और इंग्लैंड में भी खेल चुके हैं। इसलिए उन्हें लगता है कि इनका अनुभव काम आएगा। श्रीधर ने कहा कि हम यह प्लान नहीं कर सकते हैं कि हमारे पास ट्रेनिंग के लिए कितने सेशन होंगे। यह इस बात पर निर्भर करता है कि हमारा क्वारैंटाइन कितना कड़ा होगा। इसलिए अगर हम शारीरिक रूप से बहुत तैयारी भले न कर पाएं, खिलाड़ियों को मानसिक रूप से तैयार रहना होगा। टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat Arun) ने भी कम तैयारी के मसले पर अपनी राय रखी। उन्होंने स्वीकार किया कि न्यूजीलैंड के खिलाड़ी फाइनल के लिए थोड़ा बेहतर तैयार होंगे। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड को इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। इससे उनकी बेहतर तैयारी होगी। लेकिन, भारतीय खिलाड़ी भी खुद को तैयार रखें इसके लिए अभी घर पर भी सभी को विशेष टास्क दिए गए हैं। अरुण ने कहा कि टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी इस समय अपने-अपने घरों में हैं, लेकिन वे फिटनेस और रिदम मेंटेन रखने के लिए बताए गए टास्क को पूरा कर रहे हैं। एक बार जब सभी खिलाड़ी एक जगह जमा होंगे तो आगे की प्लानिंग की जाएगी।

Must Read: टी—20 वर्ल्ड कप मैच में पाकिस्तान से हार के बाद मोहम्मद शमी के बचाव में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कोहली

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :