रैली के बहाने संयम ने छोड़े सियासी तीर: मुख्यमंत्री ने किसी निर्दलीय व अन्य विधायक को मंत्री बनाने का नहीं किया कोई वादा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मैं अभिभावक के रूप में आपका ख्याल रखूंगा। एक जन प्रतिनिधि जब दूसरे जनप्रतिनिधि से यह कहता है तो इसका अर्थ यह होता है कि वो आपके क्षेत्र के नागरिकों की आवश्यकताओं व विकास की पूर्ति करेंगे।

मुख्यमंत्री ने किसी निर्दलीय व अन्य विधायक को मंत्री बनाने का नहीं किया कोई वादा

शिवगंज। विधायक संयम लोढा ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सरकार पर गत वर्ष आये भाजपा प्रेरित संकट अथवा तीन वर्ष के कार्यकाल के दौरान निर्दलीय व अन्य किसी विधायक से मंत्री बनाने का कोई वादा नही किया। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार है। किसी भी निर्दलीय का मंत्री बनने का क्या अधिकार बनता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मैं अभिभावक के रूप में आपका ख्याल रखूंगा। एक जन प्रतिनिधि जब दूसरे जनप्रतिनिधि से यह कहता है तो इसका अर्थ यह होता है कि वो आपके क्षेत्र के नागरिकों की आवश्यकताओं व विकास की पूर्ति करेंगे। गहलोत ने तीन वर्ष के शासन में सिरोही विधानसभा क्षेत्र के विकास का पूरा ध्यान रखा है।

लोढा शिवगंज कांग्रेस कार्यालय में 12 दिसम्बर को जयपुर में प्रस्तावित महंगाई हटाओ रैली को लेकर ब्लॉक कांग्रेस की आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। विधायक संयम लोढा ने कहा कि मंत्रीमण्डल पुनर्गठन के दौरान वे शिवगंज में थे और जब उनसे फोन पर सलाहकार बनाए जाने पर चर्चा की तो उन्होंने इसके लिये कहा था कि ऐसा करने की कोई आवश्यकता नहीं है। वो तो पूरी तरह संतुष्ट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ है और आगे भी रहेंगे। उन्हें बनाने की बजाय कांग्रेस के किसी नाराज विधायक को सलाहकार बनने का अवसर देकर सन्तुष्ट करें। इतना ही नही सलाहकारों की पहली बैठक में भी उन्होंने मुख्यमंत्री से यह बात दोहराई थी। गौरतलब है कि कांग्रेस जनों ने मीटिंग में मन्त्रिमण्डल पुनगर्ठन को लेकर टिप्पणियां पर प्रभारी मंत्री के सामने की थी।

विधायक संयम लोढा ने कहा कि भाजपा के राज में सबसे ज्यादा युवा दुखी हुआ था। भाजपा ने झूठ पर सात साल राज किया है। मेक इन इंडिया, मेड इन इंडिया, स्कील इंडिया का सपना दिखाकर झूठ पर राज किया है। भाजपा ने सभी सरकारी कम्पनियों का प्राईवेटेशन करने का कार्य किया है। विधायक लोढा ने 12 दिसम्बर को जयपुर में आयोजित रैली में प्रत्येक पंचायत से कार्यकर्ताओं से चलने का आव्हान किया ताकि रैली ऐतिहासिक बनाई जाए।

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री महेन्द्र सिंह चौधरी ने कहा कि मुझे आपके सिरोही का प्रभारी बनाकर भेजा है। इससे पहले जोधपुर में प्रभारी था। कोरोना काल में प्रभार क्षेत्र जोधपुर में रहकर प्रत्येक कार्य का अच्छी तरह से संचालित किया है। आपके जिले में भी प्रत्येक कार्यकर्ताओं को तवज्जों देकर कांग्रेस को मजबूत करने का कार्य करेगे। चौधरी ने कहा कि भाजपा के राज में आज सभी वर्ग के लोग दुखी है। राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के जन कल्याणकारी कार्यो से हम पुन: सत्ता में आयेगे। प्रभारी मंत्री ने सभी कांगे्रसजनों व कार्यकर्ताओं से अधिक से अधिक संख्या में जयपुर में आयोजित महंगाई हटाओं रैली में भाग लेने की अपील की।

लोकसभा प्रत्याशी संध्या चौधरी, पूर्व जिला प्रमुख अन्नाराम बोराणा, पालिका अध्यक्ष वजींगराम घांची, ब्लॉक अध्यक्ष हरीश राठौड पार्षद अल्पेश माली, मालमसिंह, राजेन्द्र सिंह, महेन्द्र वाघेला, प्रवीण पुरोहित, पूर्व एनएसयूआई जिला अध्यक्ष सुरेश सिंह राव, कांतिलाल हीरागर, जितेन्द्र मीणा, बलवीर सिंह, जगवीर सिंह, मानसिंह सरपंचत, तेजाराम मीणा सरपंच, करण सिंह सरपंच, मुकेश मीणा एनएसयूआई कॉडिनेटर मौजूद रहे।

Must Read: जालोर—सिरोही के सांसद रहे बूटा सिंह राम मंदिर के लिए भी याद किए जाने चाहिए, कांग्रेस को हाथ का निशान भी उनकी देन

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :