राजस्थान में सक्रिय हुआ मानसून: राजस्थान में ​दक्षिण पश्चिम मानसून ने पकड़ी रफ्तार, प्रदेश के कई संभागों में झमाझम बारिश, बिजली गिरने के 7 ​की मौत

प्रदेश में इंतजार के बाद आखिर रविवार को मानसून की बारिश हुई। दक्षिण-पश्चिम मानसून ने अब रफ्तार पकड़ ली। रविवार को भरतपुर, कोटा, उदयपुर, अजमेर और जयपुर संभाग के अधिकतर हिस्सों में मानसून बारिश हुई। राजधानी जयपुर समेत कई जिलों में शाम करीब चार बजे मौसम का मिजाज बदल गया।

राजस्थान में ​दक्षिण पश्चिम मानसून ने पकड़ी रफ्तार, प्रदेश के कई संभागों में झमाझम बारिश, बिजली गिरने के 7 ​की मौत

जयपुर।
प्रदेश में इंतजार के बाद आखिर रविवार को मानसून (monsoon) की बारिश हुई। दक्षिण-पश्चिम मानसून (Southwest monsoon) ने अब रफ्तार पकड़ ली। रविवार को भरतपुर, कोटा, उदयपुर, अजमेर और जयपुर संभाग के अधिकतर हिस्सों में मानसून बारिश हुई। राजधानी जयपुर (Jaipur) समेत कई जिलों में शाम करीब चार बजे मौसम का मिजाज बदल गया। आसमान में काले बादल छा गए और फिर बादलों की तेज गड़गड़ाहट के साथ बारिश होने लगी। तेज हवाओं के साथ आई बारिश की बूंदों ने वीकेंड पर मौसम खुशनुमा कर दिया। Sunday को छुट्‌टी का दिन होने से लोग आसपास पर्यटन स्थलों पर घूमने निकल गए। लेकिन, इन सबके बीच कई परिवारों पर आसमान से आफत गिरी है। तेज बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से धौलपुर में 3 और कोटा 4 बच्चों की मौत हो गई। जयपुर में करीबन 63 mm से ज्यादा बारिश दर्ज की गई। ये सीजन की पहली अच्छी बारिश है। राजधानी जयपुर में मानसून की ये पहली अच्छी बारिश है।

शाम को हुई बारिश का दौर कई देर तक जारी रहा। कहीं पर रुक-रुककर तो कहीं पर तेज बारिश हुई। वहीं दूसरी ओर राजधानी की निचली बस्तियों में जल भराव की भी शिकायते आई। मौसम विभाग (Meteorological Department) के निदेशक राधेश्याम शर्मा के अनुसार आगामी 24 से 48 घंटों में कुछ और भागों में मानसून आगे बढ़ेगा। जयपुर संभाग में आगामी 24 घंटे में कुछ स्थानों पर बारिश की संभावना है। वहीं दूसरी ओर  मानसून के आगमन के साथ ही सात बच्चों की मौत ने कई परिवारों की खुशियां छीन लीं। जानकारी के अनुसार धौलपुर के बाड़ी तहसील के कुदिन्ना गांव में बिजली गिरने से 15 वर्षीय लवकुश, 8 वर्षीय भोलू और 10 वर्षीय विपिन की मौत हो गई। इसी तरह, कोटा ग्रामीण जिले में कनवास कस्बे के गरड़ा गांव में आकाशीय बिजली गिरने से चार बच्चों की मौत हो गई। इसमें 15 वर्षीय विक्रम, 8 साल का राकेश, 15 साल का राघेय और 12 साल का अर्जुन है। इसके अलावा 65 वर्षीय फूलीबाई और चार बच्चे झुलस गए।

Must Read: बीसलपुर बांध में पानी की जोरदार आवक, त्रिवेणी नदी को लेकर आई ये खबर

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :