Sirohi ब्लाइंड मर्डर का किया खुलासा: सिरोही पुलिस ने महज 10 दिनों में भैरूजी मंदिर के महंत के मर्डर केस में 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार

सिरोही पुलिस ने महज 10 दिनों में महंत ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा करते हुए 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की जांच में सामने आय है कि महज मंदिर परिसर में शराब पी रहे युवकों को टोकने पर आरोपियों ने महंत की हत्या कर दी। आरोपियों ने महंत के साथ मारपीट करने के बाद पहाड़ी से नीचे फेंक दिया था।

सिरोही।
सिरोही पुलिस(Sirohi police) ने महज 10 दिनों में महंत ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा करते हुए 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की जांच में सामने आय है कि महज मंदिर परिसर में शराब पी रहे युवकों को टोकने पर आरोपियों ने महंत की हत्या कर दी। आरोपियों ने महंत के साथ मारपीट करने के बाद पहाड़ी से नीचे फेंक दिया था। हालांकि पुलिस ने 10 दिनों में हत्या के आरोपियों को गिफ्तार कर लिया। इससे पहले मंदिर महंत की हत्या के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की गई थी।

समाज की जनभावनाओं के साथ मामले की गंभीरता को देखते हुए सिरोही पुलिस की टीम ने दोनों आरोपियों को पकड़ा।सिरोही एसपी(Sirohi SP) धर्मेन्द्र सिंह (Dharmendra Singh) ने बताया कि वारदात 6 अगस्त की रात की है। दिलीप कुमार (22) पुत्र तेजाराम निवासी रामनगर गोलिया मण्डवाडा बरलूट हाल बाहरीघाटा सिरोही और राजू (19) पुत्र गोपी लाल गरासिया निवासी मेरपुर बेकरिया उदयपुर हाल ठाकर बावसी, सिरोही शराब के नशे में भैरू मंदिर गए थे। दोनों वहां बैठकर शराब पी रहे थे। रात करीबन साढ़े 10 बजे 80 वर्षीय महंत सुभाषनाथ वहां पहुंचे। दर्शन करने महंत अकेले ऊपर गए थे। मंदिर परिसर में  दिलीप और राजू को शराब पीते हुए देखा। इस पर महंत ने  दिलीप के साथ राजू को समझाया कि यह मंदिर है। मंदिर में शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। बस इस बात से नाराज दोनों युवकों से महंत की कहासुनी हो गई। इसके बाद दिलीप और राजू ने मंदिर परिसर में पड़ी लाठी से महंत सुभाषनाथ(Mahant Subhashnath) के सिर पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। खून से लथपथ महंत सुभाषनाथ जमीन पर गिर गए। उन्हें मरा समझकर पकड़े जाने के भय से दोनों ने धक्का देकर पहाड़ी से नीचे खाई में फेंक दिया। इसके बाद अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। SHO राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित ने बताया कि दिलीप कुमार और राजू (19) को सर्विलांस व मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया गया। दोनों युवक शराबी हैं। छोटी-मोटी मजदूरी करके दोनों काम चलाते हैं। हत्या के वक्त शराब पी रखी थी। शराब के नशे में उन्होंने महंत को मार डाला।

Must Read: भीनमाल को नर्मदा का नीर दिलाने की मांग पर 29वें दिन आंदोलन का नया स्वरूप अनशन शुरू

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :