रूस की यूक्रेन पर जंग के 43 दिन: यूक्रेन के रेलवे स्टेशन पर रूस का क्रूज मिसाइल से हमला, दर्जनों की मौत तो कई गंभीर घायल

रूस का यूक्रेन पर जंग शुरू करने के 43 दिन हो गए। रूस लगातार यूक्रेन पर हमला करता जा रहा है। ऐसे में खबर आ रही है कि रूस ने पूर्वी यूक्रेन के एक रेलवे स्टेशन पर क्रूज मिसाइल से हमला कर दिया।

यूक्रेन के रेलवे स्टेशन पर रूस का क्रूज मिसाइल से हमला, दर्जनों की मौत तो कई गंभीर घायल

नई दिल्ली, एजेंसी। 
रूस का यूक्रेन पर जंग शुरू करने के 43 दिन हो गए। रूस लगातार यूक्रेन पर हमला करता जा रहा है। ऐसे में खबर आ रही है कि रूस ने पूर्वी यूक्रेन के एक रेलवे स्टेशन पर क्रूज मिसाइल से हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि इस हमले में करीबन 39 लोगों की मौत हो चुकी, जबकि करीबन 100 से अधिक लोग घायल हो गए। मरने वालों में चार बच्चे भी शामिल है।

यह हमला डोनेट्स्क के क्राम टोरस्क में हुआ है।  डोनेट्स्क के अधिकारियों की ओर से जारी बयान के मुताबिक मिसाइल हमला उस वक्त हुआ जब हजारों लोग स्टेशन से  बाहर जाने के लिए ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। इस बीच रूस की ओर से इस हमले से इनकार किया जा रहा है। इसके साथ ही रूसी रक्षा मंत्रालय की ओर से कहा जा रहा है कि यूक्रेन जानबूझकर रेलवे स्टेशन को निशाना बनाने का आरोप लगा रहा है। रूस की ओर से ओडेसा में एक मिलिट्री ट्रेनिंग सेंटर को तबाह किए जाने की सूचना सामने आ रही है। 
इस बीच जर्मनी की ओर से एक दावा किया जा रहा है कि यूक्रेन के बूचा शहर में रूस की ओर से नरसंहार किया गया। जर्मनी के इस दावे से रूस की मुश्किलें बढ़ गई। 
जर्मनी की ओर से कहा गया कि जर्मनी के इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट ने सेटेलाइट के माध्यम से रूसी सेना का रेडियो ट्रांसमिशन रिकॉर्ड किया है। इसमें रूसी सेना के अधिकारी सैनिकों को आम नागरिकों की हत्या करने के आदेश दे रहे हैं।

जर्मनी की ओर से इस संबंध में एक आडियो तक रिलीज किया गया। इसके बाद कहा गया कि आडियो बूचा शहर का हो सकता है, बूचा शहर में पिछले दिनो सैकड़ों नागरिकों की हत्या कर दी गई थी।  लेकिन रूस ने इसे प्रोपेगैंडा बताते हुए खारित कर दिया। 
रूस—यूक्रेन जंग के बीच  यूक्रेनी मीडिया दावा कर रहा है कि यूक्रेन का सूमी इलाका पूरी तरह रूसी सैनिकों के कब्जे से मुक्त हो गया।

वहीं यूएन यूक्रेन में 1600 से अधिक नागरिकों की मौत होना बता रहा है। इसमें 131 बच्चे शामिल है तथा 2227 लोग घायल हो गए। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक यूक्रेन में 100 से अधिक स्वास्थ्य संस्थाओं पर हमले की पुष्टि हुई है। इधर, एक ओर जंग के बीच यूक्रेन की मदद के लिए 20 बख्तरबंद गाड़ियां आस्ट्रेलिया ने भेजी है तो दूसरी ओर जापान ने रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है। 
यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि बोरोडियांका शहर में बूचा से भी बदतर हालात रूसी सैनिकों ने कर दिए। यहां रूसी सैनिकों ने लोगों की हत्या कर दी। हालांकि यूक्रेन ऐसा दावा कर रहा है कि उसने रूस के 18 हजार से अधिक सैनिकों को मार दिया। यूक्रेन के बूचा में हमले के बाद लोगों के शव निकाले जा रही है। 

Must Read: अफगानिस्तान पर कब्जा करने के 21 दिन में तालिबान ने बनाई नई​सरकार, मुल्ला मोहम्मद हसन को बनाया प्रधानमंत्री

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :