भ्रमण कार्यक्रम: प्रशिक्षु न्यायिक अधिकारियों ने सिरोही जिले की पावापुरी का भ्रमण किया

राजस्थान प्रशिक्षु युवा न्यायिक अधिकारियो के एक दल ने डीजे श्रीमती पुनम दरगन व एडीजे गणपत विश्नोई के नेतृत्व में पावापुरी तीर्थ जीव मैत्रीधाम का भ्रमण किया। दल में 96 प्रशिक्षु न्यायिक अधिकारी थे। ये सभी जोधपुर से आये ओर पावापुरी भ्रमण के बाद माउण्ट आबू गए।

प्रशिक्षु न्यायिक अधिकारियों ने सिरोही जिले की पावापुरी का भ्रमण किया

सिरोही | राजस्थान प्रशिक्षु युवा न्यायिक अधिकारियो के एक दल ने डीजे श्रीमती पुनम दरगन व एडीजे गणपत विश्नोई के नेतृत्व में पावापुरी तीर्थ जीव मैत्रीधाम का भ्रमण किया। दल में 96 प्रशिक्षु न्यायिक अधिकारी थे। ये सभी जोधपुर से आये ओर पावापुरी भ्रमण के बाद माउण्ट आबू गए।

प्रशिक्षु दल ने भगवान पार्श्वनाथ महावीर स्वामी जिनालय में दर्शन किए ओर शिल्पकला को देखा। उन्होने केपी संघवी आर्ट गैलरी का अवलोकन किया। आर्ट गैलरी में जैन धर्म से सम्बधित 108 चित्रकारी पेंटिग व 15 मिनट की पावापुरी तीर्थ व जीव मैत्रीधाम पर बनी डोकुमेन्टरी फिल्म को देखा। दल ने पावापुरी गौशाला की व्यवस्थाओं को भी देखा। दल की न्यायिक अधिकारी मीनाक्षी ने सभा भवन में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि यह तीर्थ परिसर आने वालो को अनेक प्रकार की सीख प्रदान करता है।

यहां की साफ सफाई, पर्यावरण, जीवदया, सामाजिक सारोकार के कार्य, व के पी संघवी परिवार का समर्पण वास्तव में बहुत ही सराहनीय व सीखने योग्य है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश पूनम दरगन ने कहा कि इस तीर्थ पर आने से नई युवा पीढ़ी को समझने व सोचने की एक नई सोच मिलती है ओर शांति का अदभुत एहसास होता हैं। ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी महावीर जैन ने सभी का स्वागत किया व तीर्थ के बारे में संपूर्ण जानकारी दी।