रीट परीक्षा में अभ्यर्थियों की व्यवस्था: रामसीन के मांडोली गांव में हनुमान सेवा समिति की सेवा भावना के कायल हुए रीट परीक्षार्थी

निकटवर्ती गांव मांडोली में रीट  परीक्षा देने आये परीक्षार्थी ठहरने, नाश्ते व खाने की सुंदर व्यवस्था देख कर हनुमान सेवा समिति के कार्यकर्ताओं के कायल हो गए। जैसलमेर से आये जसवंत सिंह ने बताया कि किसी गांव में इतनी अच्छी व्यवस्था करना वाकई में गांव के युवाओं की एकता को दर्शाता है।

रामसीन के मांडोली गांव में हनुमान सेवा समिति की सेवा भावना के कायल हुए रीट परीक्षार्थी

रामसीन जालोर।
निकटवर्ती गांव मांडोली में रीट  परीक्षा देने आये परीक्षार्थी ठहरने, नाश्ते व खाने की सुंदर व्यवस्था देख कर हनुमान सेवा समिति के कार्यकर्ताओं के कायल हो गए। जैसलमेर से आये जसवंत सिंह ने बताया कि किसी गांव में इतनी अच्छी व्यवस्था करना वाकई में गांव के युवाओं की एकता को दर्शाता है। उनसे सीख लेकर हम भी अपने गांव में ऐसी ही एक समिति का गठन करेंगे जो न केवल गांव के हित के लिए कार्य करे अपितु आने वाले मेहमानों की भी हनुमान सेवा समिति की तरह कार्य करें। परीक्षार्थी अर्जुनसिंह ने बताया कि रात में ठहरने के लिए हमारे लिए अपने घर की तरह व्यवस्था की गई थी समय—समय पर चाय पिलाना, समय पर भोजन, शुद्ध एवं ठंडे जल की व्यवस्था हमें लगा ही नहीं कि हम घर से बाहर आए है। मेरे स्वयं के रात को 12 बजे जोरदार पेट दर्द हुआ लेकिन सेवा समिति के कार्यकर्ताओं द्वारा डॉक्टर से ईलाज करवाया गया। मुझे जल्द ही राहत मिली। मैं सेवा समिति के कार्यकर्ताओं का उपकार शायद ही उतार सकूं।

ऐसे ही कई परीक्षार्थियों ने हनुमान सेवा समिति के कार्यकर्ताओं की टीम भावना और सेवा भावना की प्रशंसा की। हनुमान सेवा समिति के कार्यकर्ता अमृतलाल प्रजापत व नारायण प्रजापत ने बताया कि रात्रि में 70 से अधिक परीक्षार्थी यहां ठहरे थे, इनके लिए ठहरने व खाने की व्यवस्था मंदीर परिसर में ही कि गई थी वही सुबह सभी को नाश्ता व चाय की व्यवस्था की गई थी। दोपहर में कम समय मिलने के बावजूद 300 से अधिक परीक्षार्थियों व उनके साथ आये अभिभावकों के लिए मंदीर परिसर में भोजन की व्यवस्था की गई थी और लगभग 250 से अधिक लोगों ने भोजन ग्रहण किया।

इस दौरान, दौलत सिंह,लाखसिंह, गुलाबनाथ, डूंगरसिंह,पदमसिंह, किशनजी, कल्याणसिंह, वनेसिंह, अमृत लौहार, गोपाल सुथार, भागीरथ,जसाराम विरास,रतनाराम, प्रजापत,चैनसिंह,भवानी सिंह,हकमाराम चौधरी,जेठाराम प्रजापत,रूपाराम देवासी,बलदेव प्रजापत,धीरज लौहार,नारायणलाल सुथार, त्रिकमाराम प्रजापत, संग्रामाराम चौधरी, पिथाराम मेघवाल, दलाराम मेघवाल आदि उपस्थित थे।

Must Read: भरतपुर दिन दहाड़े सड़क पर कार रोक कर डॉक्टर दंपती की गोली मार कर हत्या, बेखोफ बदमाश बाइक पर आए और वारदात कर हो गए फरार

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :