Discom के बाद परिवहन विभाग की वसूली: Rajasthan में वाहनों की बकाया राशि जमा नहीं कराने वालों से होगी वसूली, परिवहन विभाग जारी करेगा नोटिस

प्रदेश में डिस्कॉम के बाद अब परिवहन विभाग वाहनों के बकाया टैक्स को लेकर वसूली शुरू करेगा। इसके लिए पहले वाहनों मालिको को नोटिस दिया जाएगा। परिवहन एवं सड़क सुरक्षा विभाग आयुक्त महेंद्र सोनी की अध्यक्षता राजस्व बढ़ाने के लिए समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

Rajasthan में वाहनों की बकाया राशि जमा नहीं कराने वालों से होगी वसूली, परिवहन विभाग जारी करेगा नोटिस

जयपुर।
प्रदेश में डिस्कॉम के बाद अब परिवहन विभाग वाहनों के बकाया टैक्स को लेकर वसूली शुरू करेगा। इसके लिए पहले वाहनों मालिको को नोटिस दिया जाएगा।
परिवहन एवं सड़क सुरक्षा विभाग आयुक्त महेंद्र सोनी की अध्यक्षता राजस्व बढ़ाने के लिए समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में सोनी ने प्रदेश के सभी प्रादेशिक परिवहन अधिकारियों (आरटीओ) के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते हुए उन्हें राजस्व अर्जन की गति बढ़ाने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि विभाग की पूरी टीम में क्षमता है, वे राजस्व लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं। वित्तीय वर्ष 2021-22 के शेष 65 दिनों में उड़नदस्तों में परिवहन निरीक्षकों के साथ जिला परिवहन अधिकारी भी फील्ड में जाएं। 
ऐसे रीजन जहां पर राजस्व अर्जन कम है, वहां पर आरटीओ अपने डीटीओ और निरीक्षकों के साथ रिव्यू करें। सोनी ने आरटीओ को निर्देश दिए कि लंबे समय से टैक्स, चालान राशि जमा नहीं कराने वाले वाहन स्वामियों को नोटिस जारी कर बकाया राशि की जानकारी दें। 
वाहन स्वामियों के टेलीफोन नंबर पर बातचीत करें, मोबाइल पर संदेश भी भेजे। फिर भी नोटिस और नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ वाहनों को सीज करने, ब्लैकलिस्ट करने की कार्रवाई की जाएं।
उन्होंने कहा कि कई परिवहन रीजन लक्ष्य प्राप्ति में अच्छा कार्य कर रहे हैं, शेष भी ध्यान दें। किसी भी तरह की समस्या आने पर मुख्यालय में संपर्क किया जाए। 
उन्होंने आरटीओ को सख्त निर्देश दिए कि राजस्व अर्जन बढ़ाने में लापरवाही सामने आने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाए।   
बैठक में अपर परिवहन आयुक्त आकाश तोमर, महेंद्र खींची सहित विभाग के उच्चाधिकारियों ने भी सभी आरटीओ को राजस्व अर्जन बढ़ाने के लिए दिशा-निर्देश दिए।

Must Read: प्रदेश में केर-सांगरी, मशरूम और शहद को प्रोत्साहित करने के लिए अब किए जाएंगे विशेष प्रयास

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :