Munawar Rana का विवादित बयान: शायर मुनव्वर राणा ने तालिबानियों की तुलना आरएसएस, भाजपा और बजरंग दल से की

तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया है। ऐसे में इस को लेकर भारत में भी कई तरह के असर देखने को मिल रहे है। कई उत्पाद महंगे हो गए, तो कुछ लोग इसको लेकर बयान बाजी कर सुर्खियों में आ रहे हैं। आज गुरुवार को मशहूर शायर मुनव्वर राना ने भी विवादित बयान दिया है।

शायर मुनव्वर राणा ने तालिबानियों की तुलना आरएसएस, भाजपा और बजरंग दल से की

नई दिल्ली, एजेंसी। 
तालिबान(Taliban) ने अफगानिस्तान (Afghanistan)पर कब्जा कर लिया है। ऐसे में इस को लेकर भारत में भी कई तरह के असर देखने को मिल रहे है। कई उत्पाद महंगे हो गए, तो कुछ लोग इसको लेकर बयान बाजी कर सुर्खियों में आ रहे हैं। आज गुरुवार को मशहूर शायर मुनव्वर राना(Poet Munavwar Rana) ने भी विवादित बयान दिया है। मुनव्वर राणा ने अफगानिस्तान के हालात  भारत से बेहतर बताया है। राणा ने तालिबानियों की तुलना RSS, BJP और बजरंग दल से कर दी। इधर राणा का बयान आया और उधर सोशल मीडिया पर इसकी जमकर निंदा होना शुरू हो गया।


एक अखबार को राणा ने बताया कि अफगानिस्तान से ज्यादा क्रूरता तो हिंदुस्तान(Hindustaan) में हो रही है। अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा उसका अंदरूनी मामला है। वहां अफगानी या तालिबानी जो भी है, जैसे भी हैं, वे सब एक है। जैसे हमारे यहां बजरंग दल, BJP और RSS सब एक हैं। आप पिछले 1000 साल पुराना इतिहास उठाकर देखें तो अफगानियों ने कभी हिंदुस्तान को धोखा नहीं दिया है। राणा ने कहा कि तालिबानी आतंकी(Taliban terrorists) हथियार छीनते हैं, हमारे यहां माफिया खरीद लेते हैं। भारत को अफगानिस्तान का मुद्दा नहीं बनाना चाहिए। जल्द ही ऐसा समय आएगा जब तालिबानी हुकूमत हिंदुस्तान से मदद मांगेगी। भारत उनकी मदद करेगा। राणा ने कहा कि हमारे भारत के माफियाओं के पास तालिबानी आतंकियों से ज्यादा हथियार हैं। राना ने कहा कि मुगलकाल के औरंगजेब के जमाने में अफगानिस्तान हिंदुस्तान का ही हिस्सा था। अगर मुगल बादशाह(Mughal emperor) की हुकूमत यहां पर होती तो भारत का हिस्सा अफगानिस्तान होता। जब अंग्रेजों का समय आया तब अफगानों ने उन्हें पेड़ पर लटकाना शुरू कर दिया। इसके बाद अफगानिस्तान से हिंदुस्तान को अलग कर दिया गया था। मुनव्वर राना ने बताया कि मोदी सरकार ने अफगानिस्तान में कई काम करवाया है। वहां का संसद भवन(Parliament House) बना हुआ है। सड़कें बनवाई। कोई भी आदमी आज इन कामों को नकार नहीं सकता। चाहे तालिबानी(Taliban) आ जाए या कोई और अफगानिस्तान के लोग जानते हैं कि हिंदुस्तान (Hindustan)ने उनका कुछ बिगाड़ा नहीं बल्कि बनाया है।

Must Read: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल सोमवार को पहुंचे गुजरात, कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद में किया भव्य स्वागत

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :