Bengal SSC Scam: सलाखों के पीछे पार्थ और अर्पिता, कोर्ट ने दोनों को भेजा 18 अगस्त तक न्यायिक हिरासत मे

Bengal SSC Scam: पश्चिम बंगाल के सबसे चर्चित शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार हुए ममता बनर्जी सरकार के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी जेल की सलाखों के पीछे पहुंच गए हैं।

सलाखों के पीछे पार्थ और अर्पिता, कोर्ट ने दोनों को भेजा 18 अगस्त तक न्यायिक हिरासत मे

कोलकाता | Bengal SSC Scam: पश्चिम बंगाल के सबसे चर्चित शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार हुए ममता बनर्जी सरकार के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी जेल की सलाखों के पीछे पहुंच गए हैं। कोर्ट ने आज शुक्रवार को दोनों को 18 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। कोलकाता की कोर्ट ने दोनों को ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजा है। बता दें कि, इससे पहले पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी दोनों ही ईडी की हिरासत में थे। 

ये भी पढ़ें:- सिरोही : शिलान्यास-लोकार्पण समारोह में बोले संयम लोढ़ा, परिवार की महिला मुखिया को निशुल्क स्मार्टफोन देंगी गहलोत सरकार

टीएमसी ने छिना पार्थ का मंत्री पद, लेकिन केंद्र पर लगाए गंभीर आरोप
शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तारी होने के बाद टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी पार्थ चटर्जी के खिलाफ एक्शन लेते हुए उन्हें मंत्रिमंडल से हटा दिया और पार्टी से भी निलंबित कर दिया। इसी के साथ टीएमसी का आरोप है कि, केन्द्र सरकार के इशारे पर ईडी केंद्र ही ईडी ये सब काम कर रही है।

ये भी पढ़ें:- गुजरात: पाकिस्तानी नौकाओं की घुसपैठ! BSF की कार्रवाई, 5 नौकाएं जब्त, एक गिरफ्तार, मिला ये सामान

ईडी ने की थी अपार संपत्ति जब्त
गौरतलब है कि पार्थ चटर्जी को कथित शिक्षक भर्ती घोटाला में 23 जुलाई को ईडी ने गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद उनकी बेहद ही करीबी अर्पिता मुखर्जी को भी गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने अर्पिता मुखर्जी के दो घरों से करीब 50 करोड़ से ज्यादा की नकदी और जेवर जब्त किये थे।

ये भी पढ़ें:- माउंट में बंट रही पट्टों की रेवड़ी: संपत्ति बेची 2021 में, डेढ़ साल बाद विक्रेता ने उसी के नाम पर ले लिया पट्टा

Must Read: राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट का जन्मदिन 7 सितंबर को, शक्ति प्रदर्शन में जुटे समर्थक, 10 लाख पौधे लगाने की तैयारी 

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :