Rajasthan @ MP के पूर्व सीएम के आरोप: नेशनल जांच एजेंसी भाजपा से जुड़े आरोपियों को करा रही है बरी, एनआईए पर नहीं है भरोसा: सिंह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह  आज जयपुर पहुंचे और प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया से रू बरू हुए। इस दौरान सिंह ने भाजपा, संघ, नोटबंदी, जांच एजेंसियों का मोदी सरकार द्वारा दुरुपयोग, ड्रग्स जैसे कई मामलों पर खुल कर चर्चा की।

नेशनल जांच एजेंसी भाजपा से जुड़े आरोपियों को करा रही है बरी, एनआईए पर नहीं है भरोसा: सिंह

जयपुर। 
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह  आज जयपुर पहुंचे और प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया से रू बरू हुए। इस दौरान सिंह ने भाजपा, संघ, नोटबंदी, जांच एजेंसियों का मोदी सरकार द्वारा दुरुपयोग, ड्रग्स जैसे कई मामलों पर खुल कर चर्चा की। सिंह ने कहा कि मुंद्रा पोर्ट पर करोड़ों रुपए की हेरोईन पकडी जाती है और मामला दबाने का प्रयास किया जाता है। ऐसे में हेरोईन मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से कराई जानी चाहिए। उन्होंने पर एनआईए पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि यह वह जांच एजेंसी है, जिसने भाजपा से संबंधित आरोपियों को बरी करा दिया। यह जांच एजेंसी मोदी—शाह सरकार में आतंकी गतिविधियों तक में लिप्त लोगों को बरी करा रही है। फिर चाहे अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामला हो या फिर मकका मस्जिद केस, समझौता ब्लास्ट, मालेगांव ब्लास्ट के आरोपियों को बरी करने का मामला हो। इस लिए एनआईए पर भरोसा नहीं किया जा सकता है।


मोदी राज में ईडी और आईटी की छापेमारी
मीडिया से बातचीत में सिंह ने कहा कि मोदी राज में राजनीतिक विरोधियों पर ईडी और आईटी छापेमारी कर रही है। अगर ​कोई भाजपा में शामिल हो जाए तो मुक्ति मिल जाती है। ड्रग पैडलिंग के कई मामलों में भाजपा के 13 नेताओं को भागीदारी रही है। ऐसे में उन पर कार्रवाई नहीं की जा रही। सिंह ने मोदी राज में नोटबंदी को सबसे बड़ा घोटाला बताया। उन्होंने आरोप लगाए कि नोटबंदी के दौरान सबसे ज्यादा नोट गुजरात में कॉ आपरेटिव बैंक में गए। जहां अमित शाह ने उन पर कब्जा कर लिया। 

दिग्विजय सिंह ने संघ और मीडिया पर साधा निशाना
दिग्विजय सिंह ने स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधते हुए कहा कि आरएसएस का आज तक कोई रजिस्ट्रेशन तक नहीं हुआ। इसकी कोई मेंबरशिप भी नहीं होती। इसका बैंक अकाउंट भी नहीं है। ऐसे में जो गुरु दक्षिणा आती है, वो किस अकाउंट में जा रही है। वहीं दूसरी ओर सिंह ने मीडिया के एक वर्ग पर निशाना साधते हुए कहा कि बॉलीवुड में कुछ ग्राम ड्रग्स मिलने के बाद पूरा मीडिया उस पर पीछे पड़ जाता है, जबकि यहां पोर्ट पर करोड़ो रुपए की बड़ी खेप मिलने के बाद भी कोई डिबेट नहीं। ड्रग्स की खबर तो दूर मीडिया हिंदू—मुसलमान, पाकिस्तान और तालिबान पर ही डिबेट कराता है।

Must Read: BJP विधायक के नंबर से पीएम मोदी के खिलाफ मैसेज वायरल, मैसेज में व्यंग्यात्मक लहजे में मोदी की हग डिप्लोमैसी पर सवाल

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :