बालिका दिवस: पितृसत्तात्मक सोच को बदलने का आह्वान

समाज में बालिकाओं को शिक्षित करना और समाज की पितृसत्तात्मक सोच को बदलना ही लक्ष्य होना चाहिए। महिलाएं जब शिक्षित होंगी और आर्थिक रूप से सक्षम होगी तो समाज और देश दोनों प्रगति करेगा।

पितृसत्तात्मक सोच को बदलने का आह्वान

Jaipur | भारतीय राष्ट्रीय युवा परिषद राजस्थान की वीमन & चाइल्ड विंग ने राष्ट्रीय बालिका दिवस पर ऑनलाइन पैनल डिस्कशन का आयोजन किया. जिसमें डॉक्टर सुमन पालीवाल एवं डॉक्टर डॉ. अरुणा शर्मा ने बालिका शिक्षा और कानून व्यवस्था पर अपने विचार रखे।

परिषद के जगदीश श्योराण ने बताया कि इस मौके पर यह विचार सामने आए कि समाज में बालिकाओं को शिक्षित करना और समाज की पितृसत्तात्मक सोच को बदलना ही लक्ष्य होना चाहिए। महिलाएं जब शिक्षित होंगी और आर्थिक रूप से सक्षम होगी तो समाज और देश दोनों प्रगति करेगा। प्रदेश अध्यक्ष मयंक शर्मा ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय युवा परिषद लगातार इस दिशा में कार्य कर रहा है कि राज्य के युवा को शिक्षा और रोजगार दोनों मिले।

Must Read: राजस्थान पहुंचा मानसून! कभी भी शुरू हो सकती है झमाझम, यहां भारी बारिश का अलर्ट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :