Rajasthan एक्टिव एसीबी: राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम का मैनेजर और कोऑर्डिनेटर 5 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, आईएएस नीरज का मोबाइल भी जब्त

एसीबी की तीन टीमों ने एक साथ जयपुर और जोधपुर में ट्रेप की कार्रवाई को अंजाम दिया। राजधानी जयपुर में राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम (RSLDC) के मैनेजर राहुल कुमार गर्ग, कोर्डिनेटर अशोक सांगवान को 5 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। वहीं टीम दोनों अधिकारियों के घरों पर भी सर्च कर रही है।

राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम का मैनेजर और कोऑर्डिनेटर 5 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, आईएएस नीरज का मोबाइल भी जब्त

जयपुर। 
राजस्थान(Rajasthan) में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) की टीम लगातार ​एक्टिव मोड़ में नजर आ रही है। एक एक दिन में कई ट्रेप सरकारी महकमों में हड़कंप मचा रहा है। शनिवार को ACB की तीन टीमों ने एक साथ जयपुर और जोधपुर में ट्रेप की कार्रवाई को अंजाम दिया। राजधानी जयपुर में राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम (Rajasthan Skill and Livelihood Development Corporation) के मैनेजर राहुल कुमार गर्ग, कोर्डिनेटर अशोक सांगवान को 5 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। वहीं टीम दोनों अधिकारियों के घरों पर भी सर्च कर रही है। रिश्वत के दोनों आरोपियों ने डेढ़ करोड़ रुपए के बिल पास कराने, ब्लैक लिस्ट से हटाने, बैंक गारंटी, एक्सटेंशन देने के एवज में 5 लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। दूसरी ओर एसीबी की दूसरी टीम ने निगम के चेयरमैन IAS नीरज कुमार पवन (Neeraj Kumar Pawan) और मैनेजर सहित 9 अधिकारियों के कमरे सील कर दिए हैं। तीसरी टीम ने मुख्य प्रबंधक IAS प्रदीप गवंडे और चेयरमैन नीरज कुमार पवन का मोबाइल जब्त किया है। नीरज कुमार पवन से जोधपुर में मोबाइल जब्त किया गया है। बताया जा रहा है कि जयपुर के झालाना स्थित राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम के चेयरमैन नीरज कुमार पवन का ऑफिस में ACB ने सील कर दिया है।


ACB के DG भगवान लाल सोनी(Bhagwan Lal Soni) ने बताया कि स्पेशल यूनिट को शिकायत मिली थी कि एक फर्म ने प्रधानमंत्री कौशल विकास विकास योजना(Pradhan Mantri Kaushal Vikas Vikas Yojana) तथा दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास योजना (Deendayal Upadhyay Rural Skill Development Scheme)में कार्य किया था। स्कीम कोर्डिनेटर अशोक सांगवान व प्रबंधक राहुल कुमार गर्ग उससे डेढ़ करोड़ रुपए के बिल, ब्लैक लिस्ट से हटाने, जवाब देने के लिए एक्सटेंशन, बैंक गारंटी जब्त नहीं करने के लिए 5-6 लाख रुपए रिश्वत मांग रहे हैं। इस पर ACB ASP पुष्पेंद्र सिंह राठौड़(Pushpendra Singh Rathore) ने शिकायत मिलने पर ट्रैप की योजना बनाई। DSP मांगीलाल व इंस्पेक्टर सुभाष मील ने 5 लाख लेते हुए अशेाक सांगवान(Ashek Sangwan) पुत्र काशीराम जाट निवासी सरदार शहर चूरू हाल किराएदार इंद्रा गांधी नगर, जयपुर व राहुल कुमार गर्ग पुत्र रमेशचंद्र गर्ग निवासी पंचवटी कॉलोनी, गुर्जर की थड़ी, जयपुर को गिरफ्तार कर लिया। राहुल कुमार(Rahul Kumar) प्रतिनियुक्ति पर प्रबंधक के पद पर आरएलडीसी जयपुर में लगा हुआ है। ACB ने चेयरमैन आरएलडीसी IAS नीरज कुमार पवन व मुख्य प्रबंधक आरएलडीसी IAS प्रदीप कुमार गवडे के मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए हैं। 5 लाख रुपए लेने के मामले में दोनों की भूमिका की भी जांच हो रही है।

Must Read: हवा में खराब हुआ उड़ता हुआ विमान, यात्रियों में मचा हड़कंप

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :