Sirohi पावापुरी में जैन समाज का सम्मेलन: Rajasthan Legislative Assembly में प्रतिपक्ष नेता कटारिया ने पावापुरी में जैन समाज के सम्मेलन में की शिरकत, संस्कारों को अपने जीवन में बताया अहम

कटारिया ने कहा कि मुझे मेरे परिवार, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, धर्म गुरूओं व समाज से ऐसे संस्कार मिले है कि मैं राजनीति जीवन में  होते हुऐ भी मेरे अपने जीवन में कोई काला दाग नहीं लग पाया।

Rajasthan Legislative Assembly में प्रतिपक्ष नेता कटारिया ने पावापुरी में जैन समाज के सम्मेलन में की शिरकत, संस्कारों को अपने जीवन में बताया अहम

सिरोही।
आज बच्चों में संस्कारों की कमी के साथ संस्कारों के पतन के चलते देश—समाज में अनेक प्रकार की कमजोरियां आ गई। समाज और देश तब ही मजबुत होगा, जब हम हमारे बच्चों को संस्कार देंगे।
 यह कहना है राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया का। कटारिया रविवार को पावापुरी  में जैन श्वेताम्बर सोश्यल ग्रुप्स फेडरेशन के 13वें राष्ट्रीय अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे। 
कटारिया ने कहा कि मुझे मेरे परिवार, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, धर्म गुरूओं व समाज से ऐसे संस्कार मिले है कि मैं राजनीति जीवन में  होते हुऐ भी मेरे अपने जीवन में कोई काला दाग नहीं लग पाया। 
आज भी मैं देश सेवा व व्यवस्था में सुधार के लिए खरी—खरी बात कहने में पीछे नहीं रहता। 
कटारिया ने कहा कि जैन धर्म में जीवदया, सत्यता एवं परोपकार पर चलने का जो मूल मंत्र हैं, यह ही देश का भविष्य है। 
इसके चलते आज 2600 वर्ष बाद भी भगवान महावीर के बताए गए सिद्धांत व मार्ग प्रांसागिक है। 
कटारिया ने फेडरेशन के अधिवेशन में मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात और अन्य प्रांतों से आए हजारों प्रतिनिधियों का राजस्थान में स्वागत किया।


उन्होंने पावापुरी तीर्थ व जीव मैत्री धाम के निर्माता केपी संघवी के प्रमुख बाबुकाका को याद करते हुए उनके कार्यों की चर्चा की। 
उन्होंने कहा कि केपी ​संघवी परिवार 23 वर्षों से हजारों गोवंश का लालन पालन कर जीवदया का अनुठा व अनुकरणीय कार्य कर रहा है। 
कटारिया ने यह भी कहा कि अगर राजनीति हो, धर्म हो, संगठन या फिर व्यापार सभी जगह व्यक्ति निष्ठा, लग्न और ईमानदारी से काम करता है तो ईश्वर उसकी मदद जरूर करता हैं।

कटारिया ने शोभायात्रा में उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले चयनित ग्रुप को पुरस्कार वितरण किए। 
प्रारंभ में जैन फेडरेशन के संस्थापक  अध्यक्ष विजय ​मेहता, वर्तमान अध्यक्ष किशोर पोरवाल और अधिवेशन संयोजक विजय ललवानी ने कटारिया का अभिनंदन किया। 
पावापुरी ट्रस्ट की ओर से मेनेजिंग ट्रस्टी महावीर जैन ने कटारिया का स्वागत व अभिनंदन किया। 
कटारिया ने पावापुरी तीर्थ में विराजित दादा शंखेश्वर पार्श्वनाथ के दर्शन कर शोभा यात्रा में शरीक हुए। 
यहां पर प्रतिनिधियों ने आत्मीयता के साथ उनका स्वागत कर उनके साथ सैल्फी व फोटो खिचवायें। 
भोजन कक्ष में पधारने पर इन्दौर के मनीष सुराणा व आज के भोजन लाभार्थी रमेशचन्द्र खटोड परिवार ने कटारिया का स्वागत किया।
रात्रि में पावापुरी में आयोजित कवि सम्मेलन में हास्य रंग के विख्यात कवि पदमश्री सुरेन्द शर्मा, पार्थ नवीन, अर्जुन अल्हड व शंशिकांत ’’ शशि ’’ ने कविता पाठ के माध्यम से श्रेताओं को बांधे रखा।

Must Read: डिस्कॉम के अधिशाषी अभियंता 25 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :