Dalit Student Death: दलित छात्र की मौत से आहत होकर इस्तीफा देने वाले कांग्रेस MLA पानाचंद मेघवाल का बड़ा बयान, कहा कुछ ऐसा कि...

जालोर में दलित छात्र की मौत के मामले से आहत होकर अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायक पानाचंद मेघवाल ने एक बार फिर से राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए बड़ा बयान दिया है।

दलित छात्र की मौत से आहत होकर इस्तीफा देने वाले कांग्रेस MLA पानाचंद मेघवाल का बड़ा बयान, कहा कुछ ऐसा कि...

जालोर | Jalore Dalit Student Death:  जालोर में दलित छात्र की मौत के मामले से आहत होकर अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायक पानाचंद मेघवाल ने एक बार फिर से राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए बड़ा बयान दिया है। बता दें कि कांग्रेस विधायक पानाचंद मेघवाल ने स्वतंत्रता दिवस के दिन पद से इस्तीफा दे दिया था। 

पानाचंद मेघवाल ने सोमवार को कहा कि, डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने जो सपना देखा था वो आज भी पूरा नहीं हो पा रहा है। डॉक्टर अंबेडकर ने समानता, छुआछूत और भेदभाव रहित भारत का सपना देखा था। जो अभी तक पूरा नहीं हो सका है। आजादी के 75 साल बाद भी दलितों पर अत्याचार नहीं थम रहा है। आज भी दलित अत्याचारों का शिकार हो रहे हैं। 

ये भी पढ़ें:- Chhatra Sangh Chunav 2022 में सोमवार को पुलिस और छात्रगुटों में झड़प, कईयों के सिर फूटे, कई जख्मीं

मैं इस्तीफा वापस नहीं लूंगा
विधायक पानाचंद मेघवाल ने आगे कहा कि मैंने जालोर के दलित छात्र के परिवार को 50 लाख रुपये और एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग की थी और अभी भी अपनी इस मांग पर कायम हूं। दलित परिवार के हित में जब तक इस मांग पर फैसला नहीं हो जाता तब तक मैं इस्तीफा वापस नहीं लूंगा। मैंने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी को भेज रखा है। अब इस्तीफा स्वीकार करना है या नहीं, इसका फैसला विधानसभा स्पीकर को लेना चाहिए। 

ये भी पढ़ें:- Watch Video: अतिभारी बारिश से जलमग्न हुआ राजस्थान का टोंक जिला! मकानों-दुकानों में घुसा पानी, बाढ़ के हालात

Must Read: विधानसभा में भाजपा ने उठाया रीट परीक्षा मामला, विपक्ष ने सदन में तख्तियां दिखाकर जताया विरोध, मामले की सीबीआई जांच की मांग

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :