रणकपुर जवाई बांध महोत्सव : इस साल स्टार नाईट, रूरल हाट, पैदल यात्रा समेत कई नये कार्यक्रमों का समावेश

इस साल स्टार नाईट, रूरल हाट, पैदल यात्रा समेत कई नये कार्यक्रमों का समावेश

पाली। राजस्थान पर्यटन एवं जिला प्रशासन पाली की साझा मेजबानी में 18 दिसम्बर को सायं 7 बजे से रणकपुर स्थित सूर्य मंदिर के विशाल प्रांगण में सुरमई संगीत मय शाम सजेगी। मौका होगा रणकपुर जवाई बांध महोत्सव का। दो दिवसीय इस आयोजन को भव्य रूप प्रदान करने के लिए जिला कलक्टर अंश दीप ने मंगलवार को विभिन्न विभागीय अधिकारियों के दायित्व निर्धारित किए। महोत्सव में 18 एवं 19 दिसम्बर को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

जिला कलक्टर अंश दीप ने कहा कि दो दिवसीय इस आयोजन में अधिकाधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने बताया कि सादड़ी नगर पालिका आयोजन से जुड़ी सभी तैयारियों को समय रहते पूर्ण करें। पाली जिले के पर्यटक स्थलों से आमजन को रूबरू कराने के मकसद से सादडी स्थित सूर्य मंदिर के प्रांगण में 18 एवं 19 दिसम्बर को रणकपुर जवाई बांध महोत्सव का भव्य आयोजन किया जायेगा। इस बार रणकपुर जवाई बांध महोत्सव में स्टार नाईट, रूरल हाट, पैदल यात्रा समेत कई नये कार्यक्रमों का समावेश किया गया हैं।

रणकपुर जवाई बांध महोत्सव को भव्य रूप देने के संबंध में आयोजित बैठक में महोत्सव के सफल आयोजन की रूप रेखा तैयार की जा चुकी हैं। जिला कलक्टर ने आयोजन स्थलों पर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए संबंधित नगर पालिकाओं की जिम्मेदारी तय की है। इसके साथ ही दो दिवसीय महोत्सव में आने वाले दर्शकों व सैलानियों के स्वास्थ्य की दृष्टि से चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। जिला कलक्टर ने कहा कि दो दिवसीय रणकपुर जवाई बांध महोत्सव में कोरोना प्रोटोकॉल की पूर्णतया पालना सुनिश्चित की जाए। महोत्सव से जुडे कार्यक्रमों में नो मास्क-नो एंट्री का नियम सख्ती से लागू किया जाएगा।

महोत्सव की शुरूआत 18 दिसम्बर को रणकपुर स्थित सूर्य मंदिर प्रांगण में सवेरे 6 बजे योगा व मेडिटेशन के साथ होगी। यहां 8 बजे से रणकपुर वन्य क्षेत्र से नेचरवॉक और जीप सफारी शुरू होगी जो सूर्य मंदिर पहुंच समपन्न होगी। रणकपुर जैन तीर्थ मंदिर पर शाम 5 बजे दीपोत्सव का आयोजन किया जाएगा। जबकि सात बजे से लोक कलाकार तथा शास्त्रीय संगीत व नृत्य कलाकार सांस्कृतिक संध्या में अपने हुनर का प्रदर्शन करेंगे।

इसी तरह 19 दिसम्बर को दूसरे दिन के कार्यक्रमों की शुरूआत भी सूर्य मंदिर के प्रांगण में सवेरे छह बजे योगा व मेडिटेशन के साथ होगी। इसके बाद सवेरे 8 बजे से हेलीपेड ग्राउण्ड पर पैरासेलिंग, हॉटएयर बैलूनिंग के साथ अन्य साहसिक गतिविधियों का आयोजन होगा। यह कार्यक्रम सादड़ी नगर पालिका के सहयोग से आयोजित किया जाएगा। इसी स्थान पर सवेरे 11 से दोपहर एक बजे तक टरबन टाईंग, टग ऑफ वॉर  गोडवाड़श्री समेत कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। दोपहर 2 बजे से सादड़ी के रणकपुर रोड़ स्थित हनुमान मंदिर के नजदीक मैदान पर हॉर्स इण्डिया के सहयोग से हॉर्स व कैमल शॉ का आयोजन होगा। महोत्सव की अंतिम कडी में सूर्य मंदिर के प्रांगण में शाम 06ः30 बजे से लोक कलाकारों की और से सांस्कृतिक कार्यक्रम में अपने फन की प्रस्तुति दी जाएगी। सांस्कृतिक संध्या में विशेष प्रस्तुति के लिए मांगणियार कलाकार गाजी खान बरना आएंगे।

पर्यटन विभाग की सहायक निदेशक डॉ सरिता फिडौदा ने बताया कि दो दिवसीय महोत्सव से जुड़ी सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इस महोत्सव के जरिए पर्यटन विभाग पाली जिले के प्रमुख पर्यटक स्थलों की ब्राडिंग करेगा।

Must Read: शराब माफियाओं पर मेहरबान रामसीन थानाधिकारी

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :