शिवगंज में अंग्रेजी माध्यम विद्यालय शुरू: बच्चें कोरा कागज, जैसी चाहे इबारत लिख सकते हैं शिक्षक : विधायक लोढ़ा

सिरोही-शिवगंज विधायक संयम लोढ़ा ने शिवगंज में बुधवार को ब्लॉक स्तरीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय के शुभारंभ किया। विद्यालय के शुभारंभ अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि बच्चें कोरे कागज की तरह होते है। शिक्षक जैसी चाहे उस पर इबारत लिख सकते है।

बच्चें कोरा कागज, जैसी चाहे इबारत लिख सकते हैं शिक्षक : विधायक लोढ़ा

शिवगंज।
सिरोही-शिवगंज विधायक संयम लोढ़ा ने शिवगंज में बुधवार को ब्लॉक स्तरीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय के शुभारंभ किया। विद्यालय के शुभारंभ अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि बच्चें कोरे कागज की तरह होते है। शिक्षक जैसी चाहे उस पर इबारत लिख सकते है। शिक्षक जैसा चाहे वैसा उन्हें बना सकते है। इस वजह से हमेशा से ही एक शिक्षक से अधिक अपेक्षाएं होती है।


समारोह लोढ़ा ने कहा कि माता-पिता बच्चे के पहले गुरू होते है उसके बाद बालक शिक्षक के पास आता है तब से लेकर जब तक वह अध्ययन करता है तब तक एक शिक्षक ही उसका मार्गदर्शक होता है। यदि शिक्षक बच्चें को अपने परिवार का हिस्सा मानकर उसे तालीम देते हुए तरासने का कार्य करें तो निश्चित ही वह बच्चा हीरे की तरह प्रकाशवान होकर उभरता है। उन्होंने कहा कि आज हर जगह पर प्रतिस्पर्धा का दौर है और समय यह है कि हमें हर जगह पर अपने आप को साबित करना जरुरी है। सीएम का सपना था कि समाज के उन तबको के बच्चें जिनके माता पिता अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों में बच्चों को पढाने का खर्च नहीं उठा पाते ऐसे बच्चों के लिए महात्मा गांधी विद्यालय खोले जाए, जहां बच्चों को अंग्रेजी में तालीम हासिल हो सके। विधायक ने कहा कि पहले जिला स्तर पर इस तरह के विद्यालय खोले गए। यह प्रयोग कामयाब रहा। इस पर उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि इस तरह के विद्यालय ब्लॉक स्तर पर भी खोले जाए। जिस पर मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश में इस तरह के करीब १२०० महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय खोलने का निर्णय लिया। विधायक ने कहा कि उनकी इच्छा है कि शिवगंज का यह महात्मा गांधी विद्यालय जिले का मॉडल स्कूल बने। 
इस विद्यालय के बच्चों ने बनाया है इतिहास: विधायक


विधायक लोढ़ा ने कहा कि इस विद्यालय ने इतिहास रचा है। इस विद्यालय से पढ़कर निकले कई बच्चे आज आईएएस, आईपीएस, बड़े उद्योगपति, उच्च न्यायालय के जज इत्यादि बने है। उन्होंने बच्चों से आग्रह किया कि उन्हें इस इतिहास को आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि इसके लिए विद्यालय की प्रधानाचार्य को मैंने योजना बनाने के लिए कहा है। हमें इस स्कूल को मॉडल बनाना है। अपने स्कूल के दिनों के स्मरण सुनाते हुए विधायक ने कहा कि जब वे छोटे थे तब इसी स्कूल में अध्ययन करते थे। विधायक लोढ़ा ने कहा कि आज हमारा देश महात्मा गांधी की दांडी यात्रा की ७५ वीं सालगिरह मना रहा है। उन्होंने महात्मा गांधी के नमक सत्याग्रह का जिक्र करते हुए कहा कि हिंसा का प्रतिकार हिंसा से ही नहीं किया जा सकता। इसे महात्मा गांधी ने अहिंसा के माध्यम से साबित कर दिखाया। विधायक ने गांधी के सर्वोदय की जानकारी देते हुए कहा कि यह हमारी भूल रही कि हमने गांधी के सर्वोदय के बारे में बच्चों को जानकारी नहीं दी। अब गांधी के सर्वोदय को पढ़ना आवश्यक है और सरकार ने स्कूलों में विद्यार्थियों को गांधीजी के सर्वोदय के बारे में जानकारी देने का निर्णय लिया है। 
विधायक की ओर से विद्यालय को मिली सौगातें 
इस अवसर पर विधायक लोढ़ा ने विद्यालय की प्रधानाचार्य के आग्रह पर विद्यालय में खेलकूद के सामान के लिए ५० हजार रूपए, इन्वेटर के लिए ३० हजार रूपए, प्रोजेक्टर के लिए ३५ हजार रूपए, टॉय रूम के लिए १ लाख रूपए तथा सीसी टीवी कैमरों के लिए ३५ हजार रूपए विधायक कोष से स्वीकृत कराने की घोषणा की। इसके साथ ही विधायक ने कक्षा पहली से पांचवी तक के विद्यार्थियों के लिए फर्नीचर तथा बच्चों के लिए झूले नगर पालिका प्रशासन के सहयोग से उपलब्ध करवाने की घोषणा की। इसका समारोह में मौजूद अभिभावकों तथा गणमान्य नागरिकों ने करतल ध्वनि से स्वागत किया। कार्यक्रम को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी अमरसिंह देवडा, माध्यमिक शिक्षा अधिकारी श्रीमती गंगा कलावंत,पालिकाध्यक्ष वजींगराम घांची आदि ने भी संबोधित किया। 
आदर्श विद्यालय बनाने का दिलाया भरोसा
विधायक ने फीता काटकर विद्यालय का शुभारंभ किया। इसके बाद विद्यालय में लगाई गई विज्ञान प्रदर्शनी का अवलोकन किया। कार्यक्रम में विद्यालय प्रशासन की ओर से अतिथियों का स्वागत सत्कार किया गया। कार्यक्रम के दौरान विद्यालय की प्रधानाचार्य हेमलता चौधरी ने अतिथियों एवं अभिभावकों का आभार व्यक्त करते हुए इस विद्यालय को आदर्श विद्यालय के रूप में स्थापित करने के लिए अपने पूरे प्रयास करने का भरोसा दिलाया। 
इनकी रही कार्यक्रम में मौजूदगी
समारोह में उपखंड अधिकारी भागीरथराम चौधरी, अतिरिक्त ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी प्रथम अशोक कुमार, अतिरिक्त ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी द्वितीय हरिशंकर, विद्यालय एसएमसी अध्यक्ष लीलाराम, प्रधानाचार्य जब्बरसिंह राव, हनुवंतसिंह महेचा, योगेश वैष्णव, पार्षद हबीब शेख, मंजू देवी, जगवीरसिंह गोहिल, कस्तुर घांची, नारायणलाल परिहार, एडीओ हीरालाल माली, जसवंतसिंह, डॉ रवि शर्मा, हनुवंतसिंह मेडतिया, चंद्रकांत सोलंकी,सुकनराज जैन, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सुरेशसिंह राव, समाजसेवी नरेन्द्र जैन, प्रतापसिंह राठौड, सहवृत सदस्य राजेन्द्र कुमार सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। इस अवसर पर समाजसेवी छगनलाल घांची की ओर से बच्चों के लिए आवश्यक संसाधन जुटाने के लिए विद्यालय प्रशासन को स्वयं की तरफ से २१ हजार रूपए प्रदान करने की घोषणा की। कार्यक्रम का संचालन शारीरिक शिक्षक धर्मेन्द्र गहलोत तथा आदित्य चौधरी ने किया।

Must Read: कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कॉलेज—यूनिवर्सिटी की परीक्षा स्थगित

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :