Rajasthan कोरोना को लेकर दिशा—निर्देश: Rajasthan में कोरोना संक्रमण के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रदेश के कलेक्टरों को सतर्कता के निर्देश, PS ने कोविड नियमों की पालना के ​लिए किया पाबंद

मुख्यमंत्री के बाद अब चिकित्सा विभाग के आला अधिकारियों ने जिले में सावधानी बरतने के निर्देश जारी किए है। चिकित्सा विभाग के प्रमुख सचिव अखिल अरोड़ा के मुताबिक प्रदेश में कोविड के प्रकरणों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सभी जिला कलेक्टरों को विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं।

Rajasthan में कोरोना संक्रमण के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रदेश के  कलेक्टरों को सतर्कता के निर्देश, PS ने कोविड नियमों की पालना के ​लिए किया पाबंद

जयपुर।
प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने अब सख्ती करना शुरू कर दिया। 
मुख्यमंत्री के बाद अब चिकित्सा विभाग के आला अधिकारियों ने जिले में सावधानी बरतने के निर्देश जारी किए है। 
चिकित्सा विभाग के प्रमुख सचिव अखिल अरोड़ा के मुताबिक प्रदेश में कोविड के प्रकरणों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सभी जिला कलेक्टरों को विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं।
अरोड़ा ने कोविड-19 टीकाकरण को बढ़ावा देने, आमजन में कोविङ समुचित व्यवहार की पालना सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। 
इसके साथ ही जिलों में चिकित्सा सुविधाओं के ढाँचे को मजबूत करने के लिए प्रयास सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।
उन्होंने प्रदेश के ​कलेक्टरों को कोविड-19 के केसेज की सतत समीक्षा करने और संक्रमितों की प्रभावी कान्ट्रेक्ट ट्रेसिंग करने के निर्देशित किया।


इसके साथ ही आईसोलेशन की व्यवस्था सुनिश्चित करने, राज्य में सैम्पलिंग को बढ़ाने एवं प्रभावी सैम्पलिंग करने के लिए समय-समय पर विस्तृत दिशा-निर्देश दिए गए हैं। 
उन्होंने कहा कि कोविड-19 के प्रकरणों में पोजिटिविटी की जिला एवं ब्लॉक स्तर पर लगातार समीक्षा किए जाने की आवश्यकता है। 
किसी क्षेत्र में विशेष में पोजिटिविटी दर अधिक होने पर सैम्पलिंग को ओर बढ़ाया जाकर समस्त रोगियों की पहचान कर तुरन्त आईसोलेशन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। 
उन्होंने निर्दे​श दिए कि जिलों में विशेष अभियान चलाकर शेष नागरिकों को प्रथम डोज एवं द्वितीय डोज लगाया जाना सुनिश्चित किया जाए। 
उन्होंने कोरोना टीकारण के लिए लोगों को जागरूक करने के साथ ही स्वयं सेवी संगठनों, धर्म गुरुओं और व्यापारियों से बैठक करने की अपील की। 
इस बैठक में इन प्रतिनिधियों से कोरोना वैक्सीनेशन के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने की अपील करने पर जोर दिया। 
इसके अलावा टीकाकरण के संबंध में विशेष जागरूकता अभियान प्रारम्भ करने के लिए मिडिया, स्काउट-गाईड, एनएसएस, एनसीसी, व्यापारिक संगठन आदि का सहयोग प्राप्त किया जावे। 
शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकायों के द्वारा इस हेतु आमजन को जागरूक करने एवं निःशुल्क मास्क वितरण करने के लिये कार्यवाही की करने के भी निर्देश दिए।

तृतीय वैव की तैयारियों के लिये जिले में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट, नवीन ऑक्सीजन बेडस आदि की उपलब्धता एवं बालू हालत में होने की स्थिति की समीक्षा व इस संबंध में मोकड्रिल करने के भी निर्देश दिए। 
चिकित्सा सुविधाओं को मजबूत करने के लिये वर्तमान में चल रहे कार्यों की समीक्षा कर उन्हें शीघ्र पूर्ण करने हेतु संबंधित एजेंसी को निर्देशित किया जाना सुनिश्चित कराने और अन्तर विभागीय समन्वय भी सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए हैं।

निर्देशों में मुख्यमंत्री चिरन्जीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अन्तर्गत कोविङ- 19 रोग के उपचार को भी शामिल किया गया है। 
इस बाबत भी निजी चिकित्सा संस्थानों को अवगत करवाना सुनिश्चित करने व कोविड के ईलाज हेतु आवश्यक दवाओं के कय एवं स्टोरेज की व्यवस्था की समीक्षा के निर्देश दिए हैं।

Must Read: सिरोही के सिन्द्रथ का भोपा मोती रेबारी का बेटा नाबालिग से रेप मामले में काट रहा है जेल, तंत्र विद्या से डराकर भोपा और इसके बेटे लोगों से हड़प रहे है लाखों रुपए

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :