Haryana Government का नया फरमान: देश में हरियाणा सरकार ने गोरखधंधा शब्द को किया बैन, नाथ समुदाय के गुरु गोरखनाथ के अपमान का मामला

देश में हरियाणा सरकार ने गोरखधंधा शब्द पर बैन लगा दिया। अब हरियाणा में गोरखधंधा शब्द का इस्तेमान नहीं होगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने से नाथ समुदाय के लोगों ने मिलकर कर इस शब्द को बैन करने की मांग की थी।

देश में हरियाणा सरकार ने गोरखधंधा शब्द को किया बैन, नाथ समुदाय के गुरु गोरखनाथ के अपमान का मामला

नई दिल्ली, एजेंसी। 
देश में हरियाणा सरकार (Haryana Government)ने गोरखधंधा (gorakhadhandha) शब्द पर बैन लगा दिया। अब हरियाणा में गोरखधंधा शब्द का इस्तेमान नहीं होगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर(Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar) ने से नाथ समुदाय के लोगों ने मिलकर कर इस शब्द को बैन करने की मांग की थी। हरियाणा सरकार ने राज्य में इस गोरखधंधे शब्द पर बैन लगाने के निर्देश जारी कर दिए। अब किसी तरह के गलत कामों जैसे ठगी-धोखाधड़ी या अन्य के लिए गोरखधंधा शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। अभी बोलचाल की भाषा में अनैतिक कामों (immoral acts)को गोरखधंधा कहा जाता है। नाथ समुदाय(Nath community) इसे गुरु गोरखनाथ का अपमान बताते हुए मुख्यमंत्री से इस पर रोक लगाने की मांग की थी। गौरतलब है कि गोरखधंधा शब्द सन् 845 में नाथ संप्रदाय के गुरु गोरखनाथ की योग साधनाओं से जुड़ा हुआ है।

गुरु गोरखनाथ ने योग की अलग-अलग कठिन साधनाएं और आसन इस संसार को दिए। कठिन साधनाओं को उस समय गोरखधंधा कहा जाता था। धीरे-धीरे इसका इस्तेमाल अनैतिक कामों को बताने के लिए होने लगा।

Must Read: यूपी के कासगंज में प्रधानमंत्री मोदी ने चुनाव प्रचार में दंगों और दबंगों का किया जिक्र, परिवारवाद को बताया खतरा

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :