नाम बदलकर रहा, पर बच नहीं पाया: दस लाख की डील के मामले में सिरोही से भागा तस्कर कर्नाटक से चढ़ा पुलिस के हत्थे

दस लाख की डील के मामले में तस्कर नाम बदलकर दुकान पर काम कर रहा था। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर सिरोही ले आई।

दस लाख की डील के मामले में सिरोही से भागा तस्कर कर्नाटक से चढ़ा पुलिस के हत्थे

सिरोही। बरलूट थाना क्षेत्र में महिला एसएचओ सीमा जाखड़ और डोडा तस्करों के बीच डील के मामले में मंगलवार को एक अन्य आरोपी दबोच लिया गया। तस्कर नाम बदलकर कर्नाटक में एक दुकान पर काम कर रहा था। पुलिस उसे गिरफ्तार कर सिरोही लेकर आई है।

स्वरूपगंज थाना अधिकारी हरि सिंह राजपुरोहित के अनुसार 14 नवंबर को तस्करों और तत्कालीन एसएचओ सीमा जाखड़ के बीच दस लाख रुपए में डील हुई थी। कार्रवाई के दौरान डोडा-पोस्त से भरे वाहन का टायर पंचर हो गया। मौका देखकर तस्कर रमेश कुमार पुत्र लादूराम विश्नोई भाग गया था। सिरोही से पहले अपने घर बाड़मेर पहुंचा। वहां से कर्नाटक के लिए रवाना हो गया। मंगलूर (कर्नाटक) में अपना नाम बदलकर हनुमान राम पुत्र तुलसाराम विश्नोई रख लिया। फर्जी आईडी बनवाकर स्टील वेल्डिंग की दुकान पर मजदूरी करने लगा।

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसपी धर्मेंद्र सिंह ने डीएसपी डॉ. देवेंद्र कुमार शर्मा और पिंडवाड़ा डीएसपी किशोर सिंह चौहान के सुपरविजन में टीम गठित की थी। थाना अधिकारी आरोपी को पकड़ने के लिए टीम के साथ मंगलोर पहुंचे। पूछताछ के दौरान रमेश कुमार नाम का कोई व्यक्ति नहीं मिला। जांच में सामने आया कि वेल्डिंग की दुकान पर एक युवक कुछ समय पहले आया है। उसका नाम हनुमान राम पुत्र तुलसाराम विश्नोई है। पूछताछ में सामने आया कि तस्कर नाम बदलकर दुकान पर काम कर रहा था। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर सिरोही ले आई। तस्कर को पकड़ने में थानाधिकारी हरि सिंह राजपुरोहित के साथ कांस्टेबल दिनेश कुमार, बजरंग लाल, परमेश्वर लाल, राम लाल, छगनलाल, डीसीआरबी के हैड कांस्टेबल भवानी सिंह, रमेश कुमार और सुरेश कुमार टीम में शामिल रहे। एसपी धर्मेंद्र सिंह ने फरार आरोपी रमेश कुमार की गिरफ्तारी को लेकर दो दिन पहले ही 2000 रुपए का इनाम घोषित किया था।

Must Read: बसपा के वाजिब खुलकर बोले, चालीस विधायकों की भी शिकायत, फिर भी माउंट में ब्यूरोक्रेसी हावी

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :