पंजाब में सरकार का बड़ा फैसला: पंजाब में आप पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक विधायक एक पेंशन योजना की लागू, अब चाहे कितनी बार ही बनें विधायक, पेंशन एक बार ही मिलेगी

आज पंजाब के आप पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बड़ा फैसला करते हुए एक विधायक एक पेंशन योजना लागू करने का ऐलान कर दिया। सीएम भगवंत मान ने कहा कि जब विधायक सेवा के लिए राजनीति में आ रहे है तो उन्हें लाखों रुपए पेंशन के देने जायज नहीं है। 

पंजाब में आप पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक विधायक एक पेंशन योजना की लागू, अब चाहे कितनी बार ही बनें विधायक, पेंशन एक बार ही मिलेगी

नई दिल्ली, एजेंसी। 
दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार के कार्यों के चलते अरविंद केजवरीवाल दूसरी बार मुख्यमंत्री बनें, वहीं अब पंजाब में आप पार्टी की सरकार आते ही ऐतिहासिक कदम उठाए जा रहे हैं। 
आज पंजाब के आप पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बड़ा फैसला करते हुए एक विधायक एक पेंशन योजना लागू करने का ऐलान कर दिया। 
सीएम भगवंत मान ने कहा कि जब विधायक सेवा के लिए राजनीति में आ रहे है तो उन्हें लाखों रुपए पेंशन के देने जायज नहीं है। 
मान ने कहा कि अब एक विधायक को एक बार ही पेंशन मिलेगी, फिर चाहे वह कितनी ही बार चुनाव जीत चुका हो। 
उन्होंने कहा कि विधायक ही नहीं, 
उनके परिवारों को भी मिल रही पेंशन को रिवाइज किया जाएगा। इसके लिए आने वाले दिनों में विस्तुत जानकारी दी जाएगी। 
मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि विधायक हाथ जोड़कर लोगों से वोट मांगते हैं, नेता सेवा की बात कहते हैं, लेकिन आश्चर्य की बात है कि बहुत से विधायकों को हारने के बाद भी साढ़े तीन लाख से पांच लाख रुपए तक पेंशन मिलती है।
 इससे सरकार के खजाने पर लाखों—करोड़ों रुपए का बोझ पड़ता है। कई राजनेता तो ऐसे है जो विधायक और सांसद की पेंशन लेते है।


उन्होंने कहा कि अब विधायक 2 बार को हो या 7 बार का उसे पेंशन सिर्फ एक ही टर्म की मिलेगी।
 इससे फैसले से जो करोड़ों रुपए बचेगा उसे लोगों की भलाई के लिए खर्च किया जाएगा।
 उन्होंने कहा कि कई विधायकों की तो फैमिली पेंशन तक भी बहुत ज्यादा हो गई, उसे भी कम किया जाएगा।  
आपको बता दें कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के इस फैसले से सबसे बड़ा झटका कांग्रेस तथा अकादी दल के नेताओं को लगेगा।
पंजाब में प्रकाश सिंह बादल, कैप्टन अमरिंदर सिंह, राजिंदर कौर सहित कई नेता ऐसे है, जिन्हें लाखों रुपए की पेंशन मिल रही हैं, अब यह बंद हो जाएगी। 
पंजाब में पांच बार के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की सबसे ज्यादा पेंशन बनती है। हालांकि उनहोंने कुछ दिन पहले ही पेंशन लेने से इनकार कर दिया था। 
इनके अलावा विधायक राजिंदर कौर, लाल सिंह, सरवण सिंह फिल्लौर, बलविंदर सिंह भूंदड़, सुखदेव ढींढसा को को भी लाखों रुपए पेंशन मिल रही थी, जो अब कम हो जाएगी। 

Must Read: 25 साल बाद राजधानी जयपुर में उत्तर क्षेत्रीय परिषद की बैठक, राजस्थान को लेकर कई मुद्दों पर चर्चा

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :