रामसीन कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन: जालोर रामसीन के पुनककलां में एनपीएस अधिसूचना का विरोध, कर्मचारियों ने अधिसूचना का किया दहन

जिले के रामसीन के निकटवर्ती पीईईओ मुख्यालय पुनककलां में आज कर्मचारियों ने एनपीएस अधिसूचना का विरोध किया। कर्मचारियों ने नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के राज्यव्यापाी आह्वान पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया। वहीं इसके बाद एनपीएस अधिसूचना का दहन किया गया। 

जालोर रामसीन के पुनककलां में एनपीएस अधिसूचना का विरोध, कर्मचारियों ने अधिसूचना का किया दहन

जालोर। 
जिले के रामसीन के निकटवर्ती पीईईओ मुख्यालय पुनककलां में आज कर्मचारियों ने एनपीएस अधिसूचना का विरोध किया। कर्मचारियों ने नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के राज्यव्यापाी आह्वान पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया। वहीं इसके बाद एनपीएस अधिसूचना का दहन किया गया। 

ब्लॉक संयोजक जसवंतपुरा राजेन्द्रसिंह मांडोली ने बताया कि राजस्थान सरकार के 14 जनवरी 2004 को पुरानी पेंशन स्कीम खत्म कर राज्य सरकार ने कर्मचारियों पर नई पेंशन स्कीम लागू करने की अधिसूचना जारी की। सरकार की यह योजना कर्मचारियों के साथ बहुत बड़ा कुठाराघात है।


राजस्थान सरकार के 5 लाख कर्मचारियों में एनपीएस को लेकर भारी आक्रोश है। एनपीएस योजना में पेंशन की कोई गारंटी नही है। 
इसमें लगने वाला पैसा शेयर बाजार के जोखिम पर आधारित है। एनपीएस कर्मचारियों के साथ धोखा व घोटाला है। 
किशोर रामावत ने बताया कि पुरानी पेंशन योजना को बंद कर कर्मचारियों के बुढ़ापे की लाठी चीन ली है। अतः हम सभी को एक जुट होकर एनपीएस का विरोध शुरू करना चाहिए।  ओपीएस बहाली की मांग करनी होगी। 
आज दिन भर ब्लॉक जसवंतपुरा के समस्त कर्मचारियों ने peeo व पंचायत मुख्यालय पर काली पट्टी बांधकर अधिसूचना का दहन किया। कर्मचारियों ने कहा कि सरकार ने हमारी जायज मांग पर विचार नहीं किया गया तो प्रदेश कार्यकारिणी के आह्वान पर आंदोलन को और तेज किया जाएगा। 
इस दौरान नारायणलाल पुनक,दीपाराम,किशोर रामावत,डिम्पल कंवर,लक्ष्मण कुमार,उम्मेदसिंह, रंजीतकुमार,प्रहलादसिंह, राजेन्द्रसिंह सियाणा,सोनू,नीलम,ललितबाई मीणा, नरेंद्र कुमार,              कांता डीगवाल,सपना कलावंत,कमल सिंह,हेमंत कुमार,वालाराम,मुनेशबेरवा अंसाराम कस्तूरजी आदि उपस्थित थे।

Must Read: कोविड या ब्लैक फंगस के इलाज में मुख्यमंत्री चिरंजीवी बीमा योजना के लाभार्थियों से वसूला गया पैसा होगा वापस

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :