नए मेयर की तलाश!: महापौर सौम्या गुर्जर पर बर्खास्तगी की तलवार, गहलोत सरकार लेने जा रही एक्शन, पार्षदों पर भी होगी कार्रवाई

महापौर सौम्या गुर्जर को पूर्व आयुक्त यज्ञ मित्र सिंह देव के साथ बदसलूकी मामले दोषी पाया गया है। जिसके बाद अब राज्य सरकार उन्हें मेयर के पद से हटाने की तैयारी में है।

महापौर सौम्या गुर्जर पर बर्खास्तगी की तलवार, गहलोत सरकार लेने जा रही एक्शन, पार्षदों पर भी होगी कार्रवाई

जयपुर । राजधानी जयपुर में महापौर सौम्या गुर्जर पर बर्खास्तगी की तलवार लटक गई है। राज्य की गहलोत सरकार जयपुर नगर निगम ग्रेटर की महापौर सौम्या गुर्जर को बर्खास्त करने की तैयारी में है। बता दें कि, महापौर सौम्या गुर्जर को पूर्व आयुक्त यज्ञ मित्र सिंह देव के साथ बदसलूकी मामले दोषी पाया गया है। जिसके बाद अब राज्य सरकार उन्हें मेयर के पद से हटाने की तैयारी में है।

मेयर सौम्या गुर्जर के खिलाफ जारी न्यायिक जांच पूरी हो गयी है। इस जांच में मेयर सौम्या गुर्जर के साथ ही तीन अन्य पार्षद शंकर शर्मा, अजय सिंह और पारस जैन को भी दोषी पाया गया है। यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने पूरे मामले पर कानूनी जांच करवाने और चारों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है।

ये भी पढ़ें:- फिर भरेगा बीसलपुर: भीलवाड़ा में भारी बारिश, त्रिवेणी नदी उफान पर, पानी में डूबे मंदिर व घाट, बीसलपुर बांध की ओर तेजी से बढ़ रहा पानी

न्यायिक जांच की कॉपी के लिए तीनों पार्षद लगा रहे चक्कर
जांच में दोषी पाए जाने के बाद शुक्रवार को तीनों निलंबित पार्षद सचिवालय पहुंचे और न्यायिक जांच की रिपोर्ट की कॉपी के लिए चक्कर लगाते रहे, लेकिन उन्हें कॉपी नहीं मिली। जिसके बाद नाराज पार्षदों का आरोप है कि सरकार के इशारे पर उन्हें न्यायिक जांच की कॉपी नहीं दी जा रही है। पार्षदों का आरोप है कि, सरकार न्यायिक जांच की कॉपी नहीं देकर कोर्ट में जाने से रोक रही है।

ये भी पढ़ें:- Photos लोगों के साथ खिंचवाई सेल्फी : रक्षाबंधन पर बहन के घर पहुंचे राजस्थान सीएम Ashok Gehlot, राखी बंधवाकर लिया आर्शीवाद

सौम्या गुर्जर की जगह नए मेयर की तलाश!
राज्य सरकार सौम्या गुर्जर की जगह नए अन्य पार्षद को कार्यवाहक महापौर की जिम्मेदारी देने के लिए नए मेयर की तलाश में मंथन कर रही है। राज्य सरकार को ये अधिकार है कि, वह किसी भी पार्टी के पार्षद को कार्यवाहक महापौर नियुक्त कर सकती है। हाल ही में राज्य की गहलोत सरकार ने पूर्व महापौर शील धाभाई को कार्यवाहक महापौर बनाया था।

Must Read: खबर का असर : खबर प्रसारित होने के बाद उपखण्ड प्रशासन में मचा हड़कम्प,आनन फानन में पीला पंजा लेकर पहुंचे अचल रिसोर्ट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :