यूरोप और जर्मनी में बाढ़: यूरोप, जर्मनी,बेल्जियम सहित कई देशों में बाढ़, 180 से अधिक लोगों की मौत

बारिश से भारत का बिहार ही नहीं विदेशों में भी कई देश प्रभावित हो रहे है। भारत में जहां मानसून की बारिश से कई राज्यों में बाढ़ से हालात हुए, वहीं दूसरी ओर विदेशा में बाढ़ से कई लोगों की मौत हो गई, तो हजारों लोग लापता हैं। हजारों की तादाद में लोग बेघर हो गए।

यूरोप, जर्मनी,बेल्जियम सहित कई देशों में बाढ़, 180 से अधिक लोगों की मौत

नई दिल्ली।
बारिश से भारत का बिहार ही नहीं विदेशों में भी कई देश प्रभावित हो रहे है। भारत में जहां मानसून की बारिश से कई राज्यों में बाढ़ से हालात हुए, वहीं दूसरी ओर विदेश में बाढ़ से कई लोगों की मौत हो गई, तो हजारों लोग लापता हैं। हजारों की तादाद में लोग बेघर हो गए। जलवायु परिवर्तन का असर अब दुनिया में साफ तौर पर नजर आने लगा है। यूरोप के कई देश इन दिनों भीषण बाढ़ का सामना करना पड़ रहा हैं।

बाढ़ का सबसे ज्यादा असर जर्मनी, बेल्जियम, स्विट्जरलैंड और नीदरलैंड्स (Germany, Belgium, Switzerland and the Netherlands)  में दिखाई दे रहा है। लगातार हो रही बारिश के बाद आई बाढ़ से रविवार सुबह तक यहां 180 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 1500 से ज्यादा लोग लापता हैं। हजारों घर कूड़े के ढेर में तब्दील हो गए हैं। लोगों के पास रहने के लिए घर नहीं हैं। सब किसी तरह अपनी जान बचाने में लगे हुए हैं। कई नदियां अपनी धारा बदलकर दूसरी दिशा में बहने लगी हैं। जर्मनी के मौसम विभाग के प्रवक्ता उवे किर्सचे (Meteorological Department spokesman Uwe Kirsche)ने बताया कि 1000 साल में ऐसा पहले कभी नहीं देखा गया। मौसम विभाग के मुताबिक सबसे ज्यादा असर पश्चिमी जर्मनी के राइनलैंड-पैलेटिनेट राज्य में पड़ा है। यहां 110 लोगों की मौत हुई है।

जर्मनी के सबसे ज्यादा सघन आबादी वाले उत्तरी राइन वेस्टफेलिया राज्य में 45 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें अग्निशमन दल के कर्मचारी भी शामिल हैं। बेल्जियम में 27 लोगों की मौत हुई है। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल बाढ़ से तहस-नहस हो चुके राज्यों का दौरा कर रही हैं। 

Must Read: रूस—यूक्रेन युद्ध के बीच भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन से वार्ता, कई मुद्दों पर हुई बातचीत

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :