Rajasthan New Year पर कोरोना विस्फोट: Rajasthan में कोरोना के नए वैरिएंट Omicron का विस्फोट, राजधानी में 38 तो सिरोही, बीकानेर और प्रतापगढ़ में ओमिक्रॉन की हुई एंट्री

राजस्थान में नए साल पर कोरोना का विस्फोट हो गया। एक साथ कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के 52 मरीज सामने आए है। इनमें सबसे ज्यादा राजधानी जयपुर में 38 केस सामने आए है।

Rajasthan में कोरोना के नए वैरिएंट Omicron का विस्फोट, राजधानी में 38 तो सिरोही, बीकानेर और प्रतापगढ़ में ओमिक्रॉन की हुई एंट्री

जयपुर। 
राजस्थान में नए साल पर कोरोना का विस्फोट हो गया। एक साथ कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के 52 मरीज सामने आए है। 
इनमें सबसे ज्यादा राजधानी जयपुर में 38 केस सामने आए है। जबकि प्रदेश के सिरोही, प्रतापगढ़ और बीकानेर जैसे जिलों में भी कोरोना की एंट्री हो गई। 
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक जयपुर में ओमिक्रॉन के 38 संक्रमित सामने आए हैं। जयपुर के अलावा प्रतापगढ़, सिरोही और बीकानेर में 3-3 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 
इनके अलावा  जोधपुर में 2 तथा अजमेर ,सीकर, भीलवाड़ा में 1—1 केस आए है। आपको बता दें कि इनमें 9 लोग तो विदेश यात्रा से लौटे है, 12 मरीजों ने दूसरे राज्यों की यात्रा की है। 
जबकि कुछ ओमिक्रॉन संक्रमितों के संपर्क में आने से संक्रमित हो गए। फिलहाल संक्रमित मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री का कोई पता नहीं चला है। इसी के साथ राजस्थान में कोरोना के नए वैरिएंट ​ओमिक्रॉन से 121 लोग पॉजिटिव हो गए। 
इनमें से 61 मरीज रिकवर हो चुके है। जबकि एक व्यक्ति की उदयपुर में मौत हो गई।

जयपुर, सिरोही सहित प्रदेश के 10 राज्यों में ओमिक्रॉन
राजस्थान में सबसे पहले जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से आई फैमिली में यह संक्रमण पाया गया था।  इसके बाद यह संक्रमण प्रदेश के अन्य जिलों में फैलता गया। जयपुर के बाद अजमेर, सीकर में मिला। इसके बाद उदयपुर, भीलवाड़ा, अलवर, जोधपुर तक ओमिक्रॉन संक्रमण फैल गया। 
अब इस ओमिक्रॉन की एंट्री ​बीकानेर, सिरोही, प्रतापगढ़ जिले में भी हो गई। 
1 माह में 4 गुणा बढ़ गए मरीज
दिसंबर माह में प्रदेश में कोरोना के केस चार गुणा बढ़ गए। नवंबर तक कोरोना के केस 365 थे, जो दिसंबर के बाद 1442 तक पहुंच गए। इसी तरह मौत का ग्राफ भी अचानक बढ़ गया। 
नवंबर में केवल 1 मौत हुई, दिसंबर में 9 हो गई। राजस्थान में पिछले 5 माह में सबसे ज्यादा केस दिसंबर में आए हैं। 
हालांकि यह अच्छी बात है कि 95 प्रतिशत लोगों को कोई लक्षण नहीं है, इसके चलते इन्हें होम आईसोलेशन में रखा है। राजधानी जयपुर में संक्रमण की दर ज्यादा है। 
यहां राज्य भर के केस में से 56 प्रतिशत केस पाए गए। क्रिसमस से पहले जयपुर की पॉजिविटी दर 0.50 तक थी, जो 30दिसंबर तक बढ़ कर 4.09 हो गई। 
जयपुर के अलावा जोधपुर भी इसका केंद्र बन रहा है। जोधपुर में 118 केस मिल चुके है। 
जोधपुर के बाद बीकानेर में 83, अजमेर में 74, उदयपुर में 63 और अलवर में 60 केस एक माह में आए है। 

Must Read: वसुंधरा राजे से पीएम मोदी ने जाने पुत्रवधू निहारिका के हालचाल, कहा- आप चिंता न करें

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :