बिजली कनेक्शन पर विधायक का पत्र: ऊर्जा मंत्री जी, सिरोही में 1 हजार से अधिक किसानों ने कृषि कनेक्शन के लिए  डिमांड राशि तक जमा करा दी, अब तो कनेक्शन करवा दो: सिरोही विधायक 

सिरोही जिले में 1 हजार से अधिक कृषि कनेक्शनों की फाइल कई माह से लंबित बताई जा रही है। इन फाइलों में उपभोक्ता किसानों की ओर से डिमांड राशि तक जमा करवा दी गई,

ऊर्जा मंत्री जी, सिरोही में 1 हजार से अधिक किसानों ने कृषि कनेक्शन के लिए  डिमांड राशि तक जमा करा दी, अब तो कनेक्शन करवा दो: सिरोही विधायक 

सिरोही। 
प्रदेश में किसानों की समस्याओं का समाधान करने वाली राजस्थान सरकार के लिए सिरोही विधायक का पत्र सरकारी दावों की पोल खोलने के लिए काफी है। एक ओर जहां सरकार कृषि कनेक्शन के आवेदन करने पर जल्द से जल्द कनेक्शन देने के दावे कर रही है, वहीं दूसरी ओर सिरोही जिले में 1 हजार से अधिक कृषि कनेक्शनों की फाइल कई माह से लंबित बताई जा रही है। इन फाइलों में उपभोक्ता किसानों की ओर से डिमांड राशि तक जमा करवा दी गई, लेकिन इसके बावजूद उन्हें कनेक्शन तक नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में मजबूरन सिरोही विधायक को प्रदेश के ऊर्जा मंत्री को पत्र लिखना पड़ा। 
विधायक संयम लोढा ने ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला से फोन पर बातचीत कर सिरोही जिले में बिजली शिकायतों के निस्तारण में फॉल्ट रिमूवल टीम (एफआरटी) व्यवस्था लागू होने के बाद निस्तारण में हो रहे विलम्ब को देखते हुए टीम बढ़ाने व विभागीय कार्मिकों का व्यवस्थित उपयोग करने का आग्रह किया है। लोढा ने जिले में एक हजार से ज्यादा लंबित कृषि कनेक्शनों के मांग पत्र भरे जाने के कई माह बाद भी नहीं करने की तरफ ध्यान दिलाया है। इसी तरह 33केवी के चार जीएसएस के गत वर्ष टेंडर हो जाने के बाद भी कार्य शुरू न होने के संबंध में कार्यवाही का आग्रह किया है। लोढा ने उन्हें लिखित विस्तृत पत्र भी मेल किया है।
जिले में शिकायतों का शीघ्र करें निस्तारण
विधायक संयम लोढा ने ऊर्जा मंत्री बी.डी. कल्ला से कहां कि सिरोही जिले में कुल 12 उपखंड सिरोही, जावाल, शिवगंज, कैलाशनगर, कालन्द्री, पिंडवाड़ा, स्वरूपगंज, आबूरोड शहर, आबूरोड ग्रामीण, माउंट आबू, रेवदर, व मंडार हैं, इनमें सभी उपखंडों में निगम द्वारा एक-एक एफआरटी लगाई गई है एवं सभी उपखंडों का क्षेत्रफल बड़ा-छोटा है तथा कहीं पर उपभोक्ता ज्यादा हैं व कहीं पर कम हैं। वर्तमान में उपखंड सिरोही में करीब 22 हजार, जावाल में 14500, शिवगंज में 33 हजार, कैलाशनगर में 9 हजार, तथा कालन्द्री में 22 हजार, पिंडवाड़ा में 29700, स्वरूपगंज में 22 हजार उपभोक्ता हैं तथा आबूरोड शहर में 11500, आबूरोड ग्रामीण में 26500, माउंट आबू में 5400, रेवदर में 30 हजार, मंडार में 20 हजार उपभोक्ता हैं। जिले में कुल 12 एफआरटी कार्यरत हैं, एक एफआरटी में वाहन चालक सहित कुल पांच कर्मचारी होते हैं तथा एक वाहन होता है, एफआरटी टीम द्वारा जिस उपखंड का क्षेत्र बड़ा होता है उसमें विद्युत संबंधी प्राप्त शिकायतों का सही समय पर निस्तारण नहीं हो पाता है, अत: जहां पर 20 हजार से ज्यादा उपभोक्ता हैं वहां पर अतिरिक्त एफआरटी लगाई जावे, जिससे की समय पर शिकायतों का निस्तारण हो सके तथा जब तक अतिरिक्त एफआरटी की व्यवस्था नहीं होती है तब तक उपखंड कार्यालयों द्वारा उपखंडवार क्षेत्र निर्धारित कर एफआरटी व कार्मिकों द्वारा प्राप्त शिकायतों का समय पर निस्तारण करने की व्यवस्था की जाए।

33/11 केवी सब-स्टेशन कार्य शीघ्र करें प्रारम्भ
विधायक संयम लोढा ने सिरोही जिले के ग्राम उड, अरठवाड़ा, मटासन व रीको ग्रोथ सेंटर आबूरोड में 33/11 केवी सब-स्टेशन बहुत पहले से स्वीकृत है, इसका कार्य आदेश निगम स्तर से अक्टूबर 2020 में जारी किया जा चुका है, किन्तु अभी तक कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है। लोढा ने मंत्री से उक्त कार्य प्राथमिकता के आधार पर करने का आग्रह किया।


सिरोही के हर उपखंड में लंबित है कनेक्शन फाइल
लोढा ने सिरोही जिले के उपखंड सिरोही में 41, जावाल में 34, शिवगंज में 72, कैलाशनगर में 28, कालन्द्री में 133, पिंडवाड़ा में 150, स्वरूपगंज में 109, रेवदर में 156, मंडार में 228 तथा आबूरोड में 87 कुल 1076 कृषि कनेक्शन लम्बित हैं, किन्तु जानकारी में आया है कि 11 केवी सब-स्टेशन सेट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने के कारण उपरोक्त कृषि कनेक्शन जारी करने में समस्या आ रही है। उन्होंने 11 केवी सब-स्टेशन सेट की शीघ्र अतिशीघ्र उपलब्ध करवाने की व्यवस्था करने को कहां ताकि लम्बित कृषि कनेक्शन जारी किये जा सकें।

Must Read: पाली में धरने पर मृतक मुकन सिंह के परिजन, बोर्ड से होगा पोस्टमार्टम, चौकी का पूरा स्टाफ लाइन हाजिर

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :