सिरोही विधायक और कांग्रेसी कार्यकर्ता: चुनाव में कांग्रेस पार्टी की बगावत करने वाले सिरोही विधायक से रायशुमारी कर जिला,ब्लॉक और नगर अध्यक्षों की ना हो नियुक्ति: कार्यकर्ता

राजस्थान की राजनीति में मंत्रिमंडल का विस्तार होने से पहले कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने विधायकों से वन टू वन चर्चा की। कांग्रेसी विधायकों के साथ अजय माकन ने कांग्रेस समर्थक निर्दलीय विधायकों से भी चर्चा की। ऐसे में इस रायशुमारी को लेकर अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं में विरोध के स्वर भी तेज हो रहे है।

चुनाव में कांग्रेस पार्टी की बगावत करने वाले सिरोही विधायक से रायशुमारी कर जिला,ब्लॉक और नगर अध्यक्षों की ना हो नियुक्ति: कार्यकर्ता

​जयपुर। 
राजस्थान की राजनीति में मंत्रिमंडल का विस्तार होने से पहले कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन (State in-charge Ajay Maken)ने विधायकों से वन टू वन चर्चा की। कांग्रेसी विधायकों के साथ अजय माकन ने कांग्रेस समर्थक निर्दलीय विधायकों से भी चर्चा की। ऐसे में इस रायशुमारी को लेकर अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं में विरोध के स्वर भी तेज हो रहे है। आप को बता दें कि बुधवार को माकन ने 66 तो गुरुवार को 52 विधायकों से चर्चा की और फीडबैक लिया। इस संवाद में निर्दलीय विधायकों को भी शामिल किया गया है और उन निर्दलीय विधायकों से भी यह पूछा जा रहा है कि संगठन में जिला अध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष किसे बनाया जाए। ऐसे में कई विधानसभा सीटों से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में विरोध के स्वर भी उठने लगे हैं। 
सिरोही से निर्दलीय विधायक के विरोध में कार्यकर्ता
सिरोही विधानसभा से विधायक संयम लोढ़ा (MLA Sanyam Lodha)निर्दलीय हैं। ऐसे में सिरोही से बड़ी तादाद में कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता जयपुर में अजय माकन से मुलाकात करने विधानसभा तक पहुंच गए। कांग्रेस नेताओं का कहना था कि कांग्रेस पार्टी में अगर जिला अध्यक्ष निर्दलीय विधायक से पूछ कर बनाया जाएगा तो उस कांग्रेस कार्यकर्ता का क्या होगा, जिसने कांग्रेस पार्टी का झंडा उठाया और वफादारी से कांग्रेस के लिए काम किया। 
चुनाव में कर चुक कांग्रेस पार्टी की बगावत
सिरोही से आए नेताओं ने कहा कि निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा (Independent MLA Sanyam Lodha)ने केवल विधानसभा चुनाव में ही कांग्रेस पार्टी की बगावत नहीं की बल्कि जिला प्रमुख और सांसद चुनाव में भी वे बगावत कर चुके हैं, जिसकी शिकायत भी कांग्रेस प्रत्याशियों की ओर से की गई। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा केवल अपने कुछ लोगों को नियुक्तियां दिलवा रहे हैं, जिससे संगठन लगातार कमजोर हो रहा है। ऐसे में इन जनप्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं ने माकन से मांग रखते हुए कहा कि जिला अध्यक्ष बनाने में निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा को प्राथमिकता देने की जगह कांग्रेस राज्यसभा सांसद नीरज डांगी (Rajya Sabha MP Neeraj Dangi), लोकसभा प्रत्याशी रतन देवासी(Lok Sabha candidate Ratan Dewasi), पूर्व विधायक और विधानसभा प्रत्याशी लालाराम गरासिया और पूर्व विधायक गंगा बेन गरासिया सहित सिरोही कांग्रेस के वरिष्ठ और जनाधार वाले नेताओं से रायशुमारी करके ही जिला अध्यक्ष की नियुक्ति दें।

Must Read: National Covid Vaccination अभियान की पहली वर्षगांठ पर भारत सरकार ने जारी किया डाक टिकट

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :