Rajasthan @ कांग्रेस का मौन व्रत: राजधानी के सिविल लाइंस फाटक पर लखीमपुर खीरी घटना के विरोध में कांग्रेसियों का मौत व्रत प्रदर्शन

राजधानी के सिविल लाइंस फाटक के पास कांग्रेसियों ने मौन व्रत धारण कर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ कांग्रेस सरकार के अधिकांश मंत्री मौजूद रहे।

राजधानी के सिविल लाइंस फाटक पर लखीमपुर खीरी घटना के विरोध में कांग्रेसियों का मौत व्रत प्रदर्शन

जयपुर। 
उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध आज राजस्थान कांग्रेस नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। वहीं दूसरी ओर विरोध जताकर कांग्रेसियों ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री से इस्तीफे की मांग की। राजधानी के सिविल लाइंस फाटक के पास कांग्रेसियों ने मौन व्रत धारण कर विरोध प्रदर्शन किया।

इस दौरान प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ कांग्रेस सरकार के अधिकांश मंत्री मौजूद रहे। कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन में मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, लालचंद कटारिया, सुभाष गर्ग,सांसद नीरज डांगी, विधायक रफीक खान , भजनलाल जाटव, महेश जोशी, अमीन कागजी,शकुंतला रावत, अर्चना शर्मा, अश्क अली टांक,ज्योति खंडेलवाल,  मुनेश गुर्जर सहित कई पार्टी पदाधिकारी और अग्रिम संगठनों के नेता शामिल हुए। गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे पर चार किसानों को गाड़ी से कुचलकर मारने का आरोप है। अजय मिश्रा के बेटे को गिरफतार कर लिया गया है और पूछताछ की जा रही है।


कांग्रेस आलाकमान ने दिए मौन व्रत के निर्देश
कांग्रेस पार्टी की ओर से लखीमपुर खीरी मामले में प्रदेश कांग्रेस को चिट्ठी भेजकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग करने के निर्देश दिए थे। इस दौरान कांग्रेस को मौन व्रत धारण करने के लिए कहा गया। इससे पहले प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने पैदल मार्च का ऐलान तक किया था। भरतपुर में जाकर विरोध जताया और सभा की। जयपुर में भी पैदल मार्च करके लखीमपुर खीरी की घटना का विरोध जताया था। घटना के विरोध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी और योगी पर निशाना साधा था। कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे को लेकर लगातार केन्द्र की मोदी सरकार और उत्तरप्रदेश की योगी सरकार पर हमले कर रही है। 

Must Read: राजस्थान के पंचायत चुनाव के लिए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने सिरोही सहित 4 जिलों के प्रत्याशियों का लिया फीडबैक

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :