माउंट आबू SDM का गैर जिम्मेदार रवैया: माउंट आबू SDM और नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष के बीच विवाद, पार्षदों के साथ एसडीएम कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे जनप्रतिनिधि

जिले के माउंट आबू एसडीएम तबादला होने के बाद भी जाते—जाते आज जनप्रतिनिधियों से उलझ गए। मामला इतना बढ़ गया कि नगर पालिका के नेताप्रतिपक्ष एसडीएम कार्यालय के बाहर पार्षदगणों के साथ धरने पर बैठ गए।

माउंट आबू SDM और नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष के बीच विवाद, पार्षदों के साथ एसडीएम कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे जनप्रतिनिधि

सिरोही। 
जिले के माउंट आबू एसडीएम तबादला होने के बाद भी जाते—जाते आज जनप्रतिनिधियों से उलझ गए। मामला इतना बढ़ गया कि नगर पालिका के नेताप्रतिपक्ष एसडीएम कार्यालय के बाहर पार्षदगणों के साथ धरने पर बैठ गए। यहां आप को बता दें कि सिरोही जिला प्रभारी मंत्री के कार्यक्रम में उपस्थित नहीं होने के कारण माउंट आबू एसडीएम को हाल ही में फटकार लगाई गई थी। इसी का परिणाम है कि मात्र कुछ दिनों में ही एसडीएम को माउंट से रवाना कर दिया गया।


जानकारी के मुताबिक कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए गुरुवार को DM वीसी के माध्यम से जनप्रतिनिधियों से संवाद कार्यक्रम आयोजित किया जाना था। इधर माउंट आबू में नेटवर्क की समस्या के चलते कार्यक्रम करीबन पौन घंटे प्रभावित रहा। ऐसे में जब नेताप्रतिपक्ष ने एसडीएम से बातचीत करनी चाही तो एसडीएम गौरव सैनी नेताप्रतिपक्ष से उलझ गए और पुलिस गार्ड को बुलाने का इशारा कर दिया। पुलिस गार्ड को बुलाने के निर्देश पर नेता प्रतिपक्ष सहित अन्य पार्षद नाराज हो गए। पार्षदों ने नेता प्रतिपक्ष के साथ SDM कार्यालय के बाहर धरना दिया। 

सीएम को की जाएगी शिकायत
नेताप्रतिपक्ष ने बताया कि एसडीएम ने वीसी में बुलाकर जनप्रतिनिधियों को अपमानित किया है। वीसी में एसडीएम द्वारा संतोषजनक जवाब तक नहीं दिया गया। पूछताछ करने पर पुलिस की धमकी दी। इस मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बातचीत कर एसडीएम गौरव सैनी की शिकायत की जाएगी। 

Must Read: सिरोही वन विभाग में भ्रष्टाचार का खेल, मजदूरों के बजाय वन क्षेत्र में मशीनरी से अवैध काम

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :