Jaipur बच्चों में कोरोना वैक्सीनेशन शुरू: Chief Minister Ashok Gehlot ने 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग वाले बच्चों के वैक्सीनेशन कार्यक्रम का किया शुभारंभ, जल्द शत प्रतिशत टीकाकरण करने के निर्देश

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज सोमवार को प्रदेश में बच्चों के वैक्सीनेशन अभियान को शुरू किया। सीएम गहलोत ने राजधानी के गणगौरी बाजार स्थित राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को नि:शुल्क टीकाकरण के कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। 

Chief Minister Ashok Gehlot ने 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग वाले बच्चों के वैक्सीनेशन कार्यक्रम का किया शुभारंभ, जल्द शत प्रतिशत टीकाकरण करने के निर्देश

जयपुर।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज सोमवार को प्रदेश में बच्चों के वैक्सीनेशन अभियान को शुरू किया। सीएम गहलोत ने राजधानी के गणगौरी बाजार स्थित राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को नि:शुल्क टीकाकरण के कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। 
इस दौरान मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट के रूप में देश और दुनिया के सामने अस्तित्व का नया संकट आ गया है। 
इस खतरे से मानव जाति की रक्षा के लिए वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है।  इसमें भी अगर दूसरी डोज लगे छह माह हो गया है, ऐसे में बूस्टर डोज केंद्र सरकार को अनिवार्य कर देनी चाहिए।


वहीं केंद्र सरकार को  15 वर्ष से कम आयु के बच्चों का भी जल्द नि:शुल्क टीकाकरण शुरू कर देना चाहिए। 
मुख्यमंत्री गहलोत ने कोविड की प्रथम डोज लगवाने वाली 5 किशोरी बालिकाओं की हौसला अफजाई की। इसके साथ ही उन्हें अपनी ओर से चॉकलेट भेंट की।
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि कोविड महामारी के खतरे ने दुनिया को हिलाकर रख दिया है। कोरोना की पहली और दूसरी लहर झेलने के बाद अब ओमिक्रॉन वैरिएंट के रूप में नया खतरा सामने है। ऐसे में दुनिया के अधिकतर देशों में पहुंच चुके ओमिक्रोन वैरिएंट के कारण तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसके सुनामी का रूप लेने की चेतावनी दी है।
अब हमें भी इस खतरे की गंभीरता को समझना होगा और बड़ों से लेकर बच्चों तक का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करना होगा।
वैक्सीनेशन में राजस्थान मॉडल स्टेट बनकर उभरा
सीएम गहलोत ने कहा कि वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान देश में मॉडल स्टेट बनकर उभरा है। 
राजस्थान में करीबन 91.50 प्रतिशत अर्थात 4 करोड़ 70 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 75 प्रतिशत से अधिक अर्थात 3 करोड़ 54 लाख से अधिक लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। ऐसे में करीब 8 करोड़ 25 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

गणगौरी स्कूल को कॉलेज बनाने की घोषणा
सीएम गहलोत ने कहा कि राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सरकार ने 30 जिलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। इसके साथ ही उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए 123 सरकारी कॉलेज खोले गए हैं, इनमें 33 महिला महाविद्यालय हैं। 
सरकार ने निर्णय किया है कि जिन विद्यालयों की उच्च माध्यमिक कक्षाओं में 500 से अधिक छात्राएं होंगी वहां महाविद्यालय खोला जाएगा। 
ऐसे में सीएम ने राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय गणगौरी बाजार को इस आधार पर कॉलेज के रूप में क्रमोन्नत करने की घोषणा भी की। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में जुड़ने की अपील की। 
शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने नि:शुल्क दवा एवं जांच योजना के बाद चिरंजीवी योजना प्रदेशवासियों को इलाज के महंगे खर्च से मुक्ति दिलाने की दिशा में मुख्यमंत्री का बड़ा कदम बताया है। 
जलदाय मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक डॉ. महेश जोशी ने कहा कि 15 से 18 आयु वर्ग के टीकाकरण के इस महत्वपूर्ण अभियान की शुरूआत के लिए मुख्यमंत्री ने हवा महल विधानसभा क्षेत्र को चुना है, जो कि इस क्षेत्र के लिए गौरव की बात है। 
इस दौरान मेयर नगर निगम जयपुर हैरिटेज मुनेश गुर्जर तथा प्रमुख शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा वैभव गालरिया ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर विधायक अमीन कागजी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अतिरिक्त मुख्य सचिव प्रारम्भिक एवं माध्यमिक शिक्षा पीके गोयल, जेडीसी गौरव गोयल, एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भण्डारी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

Must Read: सहाड़ा से निर्दलीय चुनाव नामांकन भरने के बाद वापस लेने वाले पितलिया को स्वास्थ्य विभाग से मिला नोटिस्, अब नहीं कर पाएंगे चुनाव प्रचार

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :